सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में शामिल हुए PM मोदी, मंदिर के विकास से जुड़े मुद्दे पर चर्चा

पीएम मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है.
पीएम मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है.

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर कहा, ‘श्री सोमनाथ ट्रस्ट (Somnath Trust) की बैठक में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शामिल हुआ. हम लोगों ने मंदिर से जुड़े कई मुद्दों के अलावा ट्रस्ट की ओर से मौजूदा परिस्थितियों में की गई सामुदायिक सेवा और प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को पूजा से जोड़ने को लेकर चर्चा हुई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 12:13 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) बुधवार को श्री सोमनाथ ट्रस्ट (Shree Somnath Trust) की एक बैठक में शामिल हुए और इस ऐतिहासिक मंदिर के विकास से जुड़े तमाम मुद्दों पर चर्चा की.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘श्री सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शामिल हुआ. हम लोगों ने मंदिर से जुड़े कई मुद्दों के अलावा ट्रस्ट की ओर से मौजूदा परिस्थितियों में की गई सामुदायिक सेवा और प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को पूजा से जोड़ने को लेकर चर्चा हुई.’


गुजरात के गिर-सोमनाथ जिले में स्थित यह ट्रस्ट भगवान शिव के प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर से जुड़े मामलों का प्रबंधन करता है.





सोमनाथ जी के मंदिर की व्यवस्था और संचालन का कार्य सोमनाथ ट्रस्ट के अधीन किया जाता है. यह मंदिर गुजरात पर्यटन का एक विश्वविख्यात केंद्र है. सोमनाथ मंदिर के प्रांगड़ में रात साढ़े सात से साढ़े आठ बजे तक एक घंटे का साउंड एंड लाइट शो चलता है. इस शो में सोमनाथ मंदिर के इतिहास का सचित्र वर्णन किया जाता है. सोमनाथ मंदिर को इतिहास में कई बार तोड़ा तथा पुनर्निर्मित किया गया है.

वर्तमान मंदिर का पुनर्निर्माण स्वतंत्रता के बाद लौहपुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने 1951 में करवाया और पहली दिसंबर 1995 को भारत के राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा ने इसे राष्ट्र को समर्पित किया था. बता दें कि जूनागढ़ रियासत को भारत का हिस्सा बनाने के बाद तत्कालीन भारत के गृहमंत्री सरदार पटेल ने जुलाई 1947 में सोमनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण का आदेश दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज