लाइव टीवी

PM से अनुरोध, खत में लिखा- बीमार माता-पिता की देखभाल के लिए कर्मचारी को मिलनी चाहिए छुट्टी

भाषा
Updated: October 13, 2019, 9:04 PM IST
PM से अनुरोध, खत में लिखा- बीमार माता-पिता की देखभाल के लिए कर्मचारी को मिलनी चाहिए छुट्टी
एम्स के एक सहायक प्राध्यापक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लिखे गए पत्र में कहा गया कि वैसे लोग जो अपने माता-पिता या दादा-दादी, नाना-नानी की सेवा करते हैं, उन्हें सम्मानित किया जाना चाहिए.

  • Share this:


नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के एक सहायक प्राध्यापक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिख कर अवकाश नीति का अनुरोध किया है. पत्र में कहा गया है कि ‘मातृत्व और पितृत्व अवकाश’ की तर्ज पर अपने गंभीर रूप से बीमार माता-पिता की देखभाल करने वाले कर्मचारियों के लिये भी एक अवकाश नीति बननी चाहिए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे एक पत्र में वृद्धावस्था संबंधी रोगों (जेरीऐट्रिक) विभाग के डॉक्टर विजय गुर्जर ने कहा कि वह बुजुर्ग रोगियों और उनके परिवारों से बातचीत के अनुभव के आधार पर उनकी परेशानियों को महसूस कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि गंभीर रूप से बीमार अपने माता-पिता की अस्पतालों में या घर पर देखभाल करने के लिए छुट्टी लेने वाले लोगों को वित्तीय संकट से गुजरना पड़ता है या नौकरी छोड़नी पड़ जाती है.

सेवा करने वालों का होना चाहिए सम्मान

गुर्जर ने कहा कि वैसे लोग जो अपने माता-पिता या दादा-दादी, नाना-नानी की सेवा करते हैं, उन्हें सम्मानित किया जाना चाहिए. उन्होंने अपने पत्र में कहा, ‘‘जब एक रोगी गंभीर बीमारी से ग्रसित होता है तो उसके उपचार में लंबा समय लगता है. इस स्थिति में उनकी संतानों को अपने बुर्जुग माता पिता की देखभाल के लिये छुट्टी नहीं मिलती है और कई बार उन्हें अपनी नौकरी छोड़नी पड़ जाती है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत दुखद है कि ऐसे बच्चों को अपने माता-पिता की देखभाल के लिए नौकरी छोड़नी पड़ती है. उनके परिवार के सदस्यों को भी वित्तीय समस्या से निपटने के लिए संघर्ष करना पड़ता है. ऐसे बच्चों के हौसलों को सलाम है, जो अपने माता-पिता की देखभाल के लिए नौकरी छोड़ देते हैं.’’

अवकाश देने की बननी चाहिए योजना
Loading...

गुर्जर ने कहा कि बुजुर्गों को अकेलेपन से बचाने और उनकी बीमारी के दौरान उनके परिवार के सदस्यों को नियमित अवकाश देने की योजना बनाई जाए, ताकि बुजुर्ग व्यक्ति के साथ परिवार का सदस्य समय व्यतीत कर सके.

उन्होंने कहा कि कैंसर जैसे रोग या अन्य गंभीर रोगों से ग्रसित बुजुर्गों की संतान को विशेष अवकाश देने के लिए प्रावधान होना चाहिए. गुर्जर ने प्रधानमंत्री से इस संबंध में नीतियां बनाने का आग्रह किया है.

ये भी पढ़ें-
Instagram पर फॉलोअर्स के मामले में दुनिया के नंबर वन नेता बने PM मोदी

क्या होता है एक्यूप्रेशर रोलर, बीच पर जिसका इस्तेमाल कर रहे थे पीएम मोदी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 9:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...