सांसदों को मिलेंगे नए फ्लैट्स, PM मोदी आज करेंगे बहु-मंजिला इमारत का उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नए फ्लैट्स का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उद्घाटन करेंगे. फाइल फोटो
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नए फ्लैट्स का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उद्घाटन करेंगे. फाइल फोटो

संसद (Parliament) सदस्यों के लिए बीडी मार्ग पर बहु-मंजिला इमारत (multi-storeyed flats) का निर्माण कराया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2020, 11:31 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) संसद के सदस्यों के लिए निर्मित बहुमंजिला फ्लैटों का वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सोमवार को उद्घाटन करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने शनिवार को बताया कि ये फ्लैट राष्ट्रीय राजधानी में डॉ. बीडी मार्ग पर स्थित हैं. आठ पुराने बंगलों का, जो 80 साल से अधिक पुराने थे, इन 76 फ्लैटों के निर्माण के लिए पुनर्विकास किया गया है. पीएमओ के मुताबिक कोविड-19 के प्रभाव के बावजूद स्वीकृत लागत से लगभग 14 प्रतिशत की बचत के साथ और बिना अधिक समय लगे इन फ्लैटों का निर्माण पूरा हो चुका है. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी उद्घाटन के दौरान मौजूद रहेंगे.

इससे पहले रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने यूपी के सोनभद्र (Sonbhadra) में वर्चुअल माध्यम से हर घर नल योजना (Har Ghar Nal Yojana) का शुभारंभ किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में भी यूपी सरकार ने विकास कार्यों की रफ्तार धीमी नहीं होने दी. उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसके लिए बधाई भी दी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि जल जीवन मिशन एक महत्वाकांक्षी योजना है. इससे जल प्रबंधन और रखरखाव बढ़ेगा. मीरजापुर सौर उर्जा का केंद्र बन रहा है. यहां की जल समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने जो कदम उठाए हैं, उससे साफ पता चलता है कि सरकार सिर्फ लोगों की परेशानियों को समझती ही नहीं, बल्कि उसे दूर करने का काम भी करती है.



ये भी पढ़ेंः पीएम मोदी ने यूपी के मिर्जापुर, सोनभद्र को दी बड़ी सौगात
उन्होंने कहा कि 5555 करोड़ रुपए की हर घर नल योजना से तीन हजार गांवों के 41 लाख लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा, जो एक बहुत बड़ी उपलब्धि है. सोन, गंगा, बेलन, कर्मनाशा और शिप्रा जैसी नदियां होने के बाद भी बुंदेलखंड (Bundelkhand) सूखा प्रभावित रहा है. पानी की कमी के चलते यहां से पलायन भी हुआ. सरकार ने बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के हर घर तक नल से पानी पहुंचाने का काम शुरू किया है, वह बहुत ही सराहनीय है.

पढ़ेंः G-20 समिट में PM मोदी बोले- WWII के बाद दुनिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती कोरोना

उन्होंने सोनभद्र जिले की 14 और मीरजापुर जिले (Mirzapur) की नौ पेयजल परियोजनाओं का शुभारंभ किया. इस योजना से बुंदेलखंड के सूखाग्रस्त इलाकों में रहने वाले लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इंसेफेलाइटिस पर जो काबू पाया है, वह बहुत ही सराहनीय है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज