अपना शहर चुनें

States

पीएमसी बैंक घोटाला: ईडी ने विधायक और उसकी फर्म से जुड़े परिसरों में छापे मारे

ईडी ने इसकी जानकारी दी है. (फाइल फोटो)
ईडी ने इसकी जानकारी दी है. (फाइल फोटो)

ईडी ने शुक्रवार को पीएमसी बैंक घोटाला मामले में महाराष्‍ट्र के विधायक और सरकार को समर्थन दे रही बहुजन विकास आघाड़ी के प्रमुख हितेन्‍द्र ठाकुर और उसकी फर्म से जुड़े कुछ परिसरों पर छापा मारा. इस मामले में शिवसेना सांसद की पत्‍नी वर्षा राउत से भी पूछताछ हो चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 12:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएमसी बैंक के 4,300 करोड़ रुपये के कथित घोटाले से संबंधित धनशोधन के मामले में महाराष्ट्र के एक विधायक और उनके एक फर्म से जुड़े कुछ परिसरों पर शुक्रवार को छापा मारा. कार्रवाई में ‘‘73 लाख रुपये नकद, कई डिजिटल और दस्तावेजी साक्ष्य बरामद हुए हैं.’’ आरोप है कि उन्होंने ‘‘बैंक के धन का अवैध तरीके से हस्तांतरण किया है.’’

एजेंसी ने बताया कि बहुजन विकास आघाड़ी (बीवीए) प्रमुख और विधायक हितेन्द्र ठाकुर द्वारा प्रोमोटेड विवा ग्रुप, उसके सहयोगियों और दो वित्तीय सलाहकारों के पालघर जिले के वसई-विरार और मुंबई के अंधेरी, जुहु और चेम्बूर स्थित पांच आवासीय और व्यावसायिक परिसरों पर छापा मारा गया. ठाकुर की पार्टी में तीन विधायक हैं और उन्होंने शिवसेना प्रमुख व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत महा विकास आघाड़ी सरकार को अपना समर्थन दिया हुआ है. ठाकुर के अलावा उनके बेटे क्षितिज ठाकुर नालासोपोरा से और राजेश पाटिल बोईसर सीट से विधायक हैं. महा विकास आघाड़ी गठबंधन में राकांपा और कांग्रेस भी शामिल हैं.

शिवसेना सांसद की पत्‍नी से हो चुकी है पूछताछ
पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी बैंक द्वारा अक्टूबर 2019 में हाउंसिंग डेवेलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएन), उसके प्रमोटर राकेश कुमार वाधवान, उनके बेटे सारंग वाधवान, पूर्व चेयरमैन वरयम सिंह और पूर्व प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस द्वारा ऋण धोखाधड़ी करने का आरोप है. केन्द्रीय एजेंसी ने इस कथित ऋण घोटाले से जुड़े धन शोधन को लेकर आपराधिक मामला दर्ज किया है. ईडी इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत से भी पूछताछ कर चुका है. वर्षा राउत पर मामले के एक अन्य आरोपी प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी राउत से बिना ब्याज के 55 लाख रुपये का कथित ऋण लेने का संदेह है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज