Home /News /nation /

कश्मीर टारगेट किलिंग: आतंकियों के मददगारों पर NIA का एक्शन, 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

कश्मीर टारगेट किलिंग: आतंकियों के मददगारों पर NIA का एक्शन, 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर में आतंकी बाहरी लोगों को निशाना बना रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

जम्मू कश्मीर में आतंकी बाहरी लोगों को निशाना बना रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

कई आतंकी संगठनों द्वारा जम्मू-कश्मीर के अंदर एक बड़ी साजिश के तहत वहां की कानून -व्यवस्था को अस्त व्यस्त करना, प्रवासी मजदूरों और गैर मुस्लिम लोगों की हत्या और उनके अंदर डर का माहौल पैदा करना इसी रणनीति के तहत कई लोगों की हत्या कर चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर में टारगेट किलिंग में आतंकवादियों के मददगारों पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने सख्त कार्रवाई करते हुए 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोप है कि इन लोगों ने सोची-समझी साजिश के तहत आतंकियों और उनसे जुड़े लोगों को स्थानीय स्तर पर मदद पहुंचाई और उन्हें लॉजिस्टिक सपोर्ट दिया. बता दें कि NIA ने 10 अक्टूबर को एक FIR दर्ज किया था. इसमें कई आतंकियों और आतंकी संगठनों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था.

कई आतंकी संगठनों द्वारा जम्मू-कश्मीर के अंदर एक बड़ी साजिश के तहत वहां की कानून -व्यवस्था को अस्त व्यस्त करना, प्रवासी मजदूरों और गैर मुस्लिम लोगों की हत्या और उनके अंदर डर का माहौल पैदा करना इसी रणनीति के तहत कई लोगों की हत्या कर चुके हैं. जिसके चलते बिहार (Bihar), उत्तरप्रदेश (Uttarpradesh),पश्चिम बंगाल (West Bengal) सहित अन्य राज्यों के प्रवासी मजदूर कश्मीर से पलायन करने के लिए मजबूर हो गए. लिहाजा इस मसले की गम्भीरता और आतंकियों की साजिश के खिलाफ कार्रवाई के लिए 17 अक्टूबर से लेकर 20 अक्टूबर तक एनआईए के प्रमुख यानी महानिदेशक (Director General) कुलदीप सिंह कश्मीर में रूके हुए हैं और इस केस को सुपरवाइज भी कर रहे हैं. बुधवार को इसी मामले में छापेमारी के दौरान हुई पूछताछ के दौरान चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

एनआईए द्वारा गिरफ्तार चारों आरोपियों का नाम इस प्रकार से है..
1. सुहैल अहमद ठोकर – कश्मीर स्थित कुलगाम का रहने वाला
2. कामरान अशरफ रेशी – श्रीनगर के हज़रतबल इलाके का रहने वाला
3. रईद बशीर – श्रीनगर मूल का रहने वाला
4. हन्नन गुलजार , श्रीनगर का रहने वाला

एनआईए को छापेमारी के दौरान मिले कई महत्वपूर्ण दस्तावेज
एनआईए की टीम बुधवार की सुबह को ही कश्मीर के 11 लोकेशन पर पहुंचकर छापेमारी शुरू कर दी एनआईए की टीम श्रीनगर (Srinagar), पुलवामा (Pulwama) कुलगाम, बारामुला (Baramulla) सहित अन्य लोकेशन पर छापेमारी को देर शाम तक अंजाम दिया उसके बाद छापेमारी के दौरान जब्त कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों, इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों (electronic devices) जेहादी साहित्य (jehadi documents/Posters) समेत अन्य सबूतों को अपने साथ लेकर निकली.

मददगारों के खिलाफ चल रही है तफ्तीश
जांच एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक इस बार कई आतंकी संगठनों के खिलाफ जांच एजेंसी काफी सतर्कता और एकजुटता के साथ कार्रवाई को अंजाम दे रही है. इस ऑपरेशन में जांच एजेंसी दूसरे एजेंसी की भी आवश्यकता के मुताबिक मदद ले रही है, जिससे आतंकियों की साजिश को बेकार और बर्बाद किया जा सके. एनआईए मुख्यालय के अधिकारी के मुताबिक इन प्रमुख संगठनों से जुड़े कनेक्शन को खंगालने और आपस के तार को जोड़ने में जांच एजेंसी जुटी हुई है.

लश्कर -ए तैयबा ( Laskhar-e-Taiba (LeT)), जैश-ए -मोहम्मद ( Jaish-e-Mohammed (JeM)), हिजबुल मुजाहिदीन (Hizb-ul-Mujahideen), अल बदर ( Al Badr) लश्कर की सहयोगी संस्था टीआरएफ (Resistance Front (TRF)), और पीएएफएफ यानी पीपल अगेंस्ट फासिस्ट फोर्सेज (People Against Fascist Forces (PAFF). जांच एजेंसी के अधिकारी के मुताबिक इस केस में अबतक कुल 9 आरोपियों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. आने वाले वक्त में कई और आरोपियों की गिरफ्तारी भी संभव है.

Tags: Indian army, Indian Army news, Jammu kashmir, Jammu kashmir news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर