होम /न्यूज /राष्ट्र /केरल: पुलिस अफसर ने स्तनपात कराकर बच्चे की बचाई जान, न्यायाधीश, पुलिस प्रमुख ने की तारीफ

केरल: पुलिस अफसर ने स्तनपात कराकर बच्चे की बचाई जान, न्यायाधीश, पुलिस प्रमुख ने की तारीफ

12 दिन के नवजात बच्चे की जान बचाने के लिए एक महिला पुलिस अफसर ने उसे स्तनपान कराया. (सांकेतिक तस्वीर)

12 दिन के नवजात बच्चे की जान बचाने के लिए एक महिला पुलिस अफसर ने उसे स्तनपान कराया. (सांकेतिक तस्वीर)

माता-पिता के आपसी झगड़े के कारण मुश्किल में फंसे 12 दिन के नवजात बच्चे की जान बचाने के लिए एक महिला पुलिस अफसर ने उसे स ...अधिक पढ़ें

तिरुवनंतपुरम. माता-पिता के आपसी झगड़े के कारण मुश्किल में फंसे 12 दिन के नवजात बच्चे की जान बचाने के लिए एक महिला पुलिस अफसर ने उसे स्तनपान (Breast Feeding) कराया. घटना के बारे में पता चलने पर राज्य के पुलिस महानिदेशक और केरल उच्च न्यायालय के न्यायाधीश ने अफसर की तारीफ की है.

राज्य पुलिस के मीडिया इकाई से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, केरल उच्च न्यायालय के न्यायाधीश देवन रामचन्द्रन ने राज्य पुलिस प्रमुख को लिखे गए पत्र में सिविल पुलिस अफसर एम. आर. राम्या की तारीफ की है और उन्हें देने के लिए एक प्रमाणपत्र भी भेजा है.

पादरियों द्वारा यौन शोषण की वो कहानी जो सदियों में कभी नहीं सुनी गई

प्रमाणपत्र में न्यायमूर्ति रामचन्द्रन ने कहा है ‘‘आज आप पुलिसिंग का सबसे सुन्दर रूप हैं। बेहतरीन अफसर और सच्ची मां, आप दोनों हैं.’’ इसमें कहा गया है, ‘‘मां का दूध ईश्वर का वरदान है, जो सिर्फ एक मां दे सकती है और आपने ड्यूटी पर रहते हुए उसे दिया. आप हम सभी में भविष्य के लिए मानवता की आशा को जिंदा रखे हुए हैं.’’ बयान के अनुसार, इसके अलावा पुलिस प्रमुख अनिल कांत ने भी राम्या को एक प्रशस्तिपत्र दिया और उन्हें तथा उनके परिवार को पुलिस मुख्यालय आने का न्योता दिया.बयान के अनुसार, कांत ने कहा कि राम्या के इस काम से पुलिस की छवि बेहतर हुई है.

Tags: Thiruvananthapuram News

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें