लाइव टीवी

जम्मू-कश्मीर में हिरासत में रखे गये नेताओं के पास से 11 मोबाइल फोन बरामद

भाषा
Updated: November 24, 2019, 4:56 PM IST
जम्मू-कश्मीर में हिरासत में रखे गये नेताओं के पास से 11 मोबाइल फोन बरामद
पुलिस अधिकारी ने बताया, तलाश अभियान के दौरान एमएलए हॉस्टल से 11 मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं.

इन नेताओं को पिछले हफ्ते सेंटूर होटल से यहां लाया गया है क्योंकि कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) में सर्दियां बढ़ने के चलते वहां सुविधाओं की कमी हो गई थी.

  • Share this:
श्रीनगर. श्रीनगर (Srinagar) में एमएलए हॉस्टल में हिरासत में रखे गये मुख्यधारा के कई नेताओं के पास से 11 मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जेल नियमावली के मुताबिक शनिवार शाम तलाशी अभियान चलाया गया. दरअसल, इस बारे में खुफिया सूचना थी कि एमएलए हॉस्टल में रखे गये लोग मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं. इस हॉस्टल को उप-कारागार में तब्दील कर दिया गया है.

अधिकारी ने बताया, ‘‘तलाश अभियान के दौरान एमएलए हॉस्टल से 11 मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं.’’ उन्होंने बताया कि इस बारे में जांच जारी है कि ये मोबाइल फोन वहां कैसे पहुंच गये.

पांच अगस्त से हिरासत में हैं नेता
जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को रद्द करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के पांच अगस्त के केंद्र के फैसले के बाद से करीब तीन दर्जन नेताओं को हिरासत में लिया गया है. इन नेताओं को यहां एम ए रोड के पास एमएलए हॉस्टल में रखा गया है.

इन नेताओं को पिछले हफ्ते सेंटूर होटल से यहां लाया गया है क्योंकि कश्मीर घाटी (Kashmir Valley) में सर्दियां बढ़ने के चलते वहां सुविधाओं की कमी हो गई थी.

धमकाने वाले लोगों को किया गया गिरफ्तार
वहीं जम्मू कश्मीर में पोस्टर चिपका कर स्थानीय व्यापारियों को कथित रूप से धमकाने तथा घाटी में सामान्य स्थिति बहाली में बाधा उत्पन्न करने को लेकर अज्ञात संख्या में व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है. अधिकारियों का कहना है कि गिरफ्तार किए गए लोगों का संबंध आतंकवादियों से संबंध हो सकता है.
Loading...

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक एस पी पाणि ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया को बताया कि दुकानदारों को भयभीत करने के लिए पोस्टर चिपकाने की घटनाओं को पुलिस ने संज्ञान में लिया है और इसमें शामिल व्यक्तियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें-
पुनर्विचार याचिका दायर करने से हिंदू-मुस्लिम एकता को होगा नुकसान: NCM प्रमुख

महाराष्ट्र सरकार पर सुप्रीम कोर्ट ने सभी दलों को दिया नोटिस, कल होगी सुनवाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 4:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...