Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    कोरोना वैक्सिनेशन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा पोलियो उन्मूलन नेटवर्क: WHO

    साउथ ईस्ट एशिया में पोलियो उन्मूलन नेटवर्क का इस्तेमाल कोविड वैक्सिनेशन में किया जा सकता है. (सांकेतिक तस्वीर)
    साउथ ईस्ट एशिया में पोलियो उन्मूलन नेटवर्क का इस्तेमाल कोविड वैक्सिनेशन में किया जा सकता है. (सांकेतिक तस्वीर)

    WHO दक्षिण-पूर्वी एशिया की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल सिंह (Poonam Khetrapal Singh) ने एक बयान में कहा कि आगामी महीनों में क्षेत्र का पोलियो नेटवर्क पहुंच से दूर और जोखिम वाली आबादी तक टीकाकरण और उपायों, रणनीतियों पर अपनी व्यापक जानकारी के साथ कोविड-19 टीकाकरण शुरू होने पर इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 23, 2020, 10:37 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम (polio eradication program) की रणनीतियों को लागू करते हुए दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र में उसका नेटवर्क कोरोना वायरस महामारी को रोकने की दिशा में लोक स्वास्थ्य व्यवस्था की मदद कर रहा है. WHO दक्षिण-पूर्वी एशिया की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल सिंह ने एक बयान में कहा कि आगामी महीनों में क्षेत्र का पोलियो नेटवर्क पहुंच से दूर और जोखिम वाली आबादी तक टीकाकरण और उपायों, रणनीतियों पर अपनी व्यापक जानकारी के साथ कोविड-19 टीकाकरण शुरू होने पर इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है.

    कोविड-19 के दौरान उन्मूलन नेटवर्क ने निभाया रोल
    बयान में कहा गया कि कोविड-19 फैलने के कुछ हफ्ते के भीतर क्षेत्र के पांच पोलियो प्राथमिकता वाले देशों में एकीकृत निगरानी और टीकाकरण नेटवर्क को तैयारियों और स्वास्थ्य तंत्र की मदद के लिए तैयार किया गया. सिंह ने कहा, ‘सबसे जोखिम वाली आबादी और क्षेत्रों में काम करते हुए इस नेटवर्क ने स्वास्थ्य प्राधिकारों को ‘संक्रमित का पता लगाने , जांच और पृथक-वास’ तथा समय पर अस्पतालों की तैयारी और उचित उपचार में भी मदद की है.’

    कई देशों में मदद कर रहा है नेटवर्क
    उन्होंने कहा कि राष्ट्र और उपराष्ट्र स्तर पर समन्वय, प्रशिक्षण, प्रयोगशाला और संक्रमितों का पता लगाने से लेकर स्वास्थ्यकर्मियों के लिए क्षमता निर्माण में सहयोग के साथ बांग्लादेश, भारत, इंडोनेशिया, म्यांमा और नेपाल में डब्ल्यूएचओ का पोलियो निगरानी नेटवर्क रणनीतियों और पहल में मदद कर रहा है. इन कवायदों को पिछले वर्षों में और बेहतर बनाया गया और इससे मार्च 2014 में क्षेत्र को पोलियो मुक्त का प्रमाणन हासिल करने में मदद मिली.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज