होम /न्यूज /राष्ट्र /

महाराष्ट्र में सियासी घमासान, विपक्ष का आरोप बीजेपी कर रही वंदे मातरम का राजनीतिकरण

महाराष्ट्र में सियासी घमासान, विपक्ष का आरोप बीजेपी कर रही वंदे मातरम का राजनीतिकरण

महाराष्ट्र सरकार के सांस्कृतिक कार्य मंत्री सुधीर मुनगंटीवार. (फाइल फोटो )

महाराष्ट्र सरकार के सांस्कृतिक कार्य मंत्री सुधीर मुनगंटीवार. (फाइल फोटो )

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) द्वारा सभी सरकारी कार्यालयों में फ़ोन पर हैलो की जगह 'वंदे मातरम' (Vande Mataram) बोलने की घोषणा को लेकर सियासी घमासान शुरू हो गया है.

हाइलाइट्स

महाराष्‍ट्र में कांग्रेस ने भाजपा पर लगाए आरोप
हैलो के स्‍थान पर वंदे मातरम कहने की घोषणा
वंदे मातरम को लेकर मचा सियासी घमासान

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) द्वारा सभी सरकारी कार्यालयों में फ़ोन पर हैलो की जगह ‘वंदे मातरम’ (Vande Mataram) बोलने की घोषणा को लेकर सियासी घमासान शुरू हो गया है. विपक्ष ने सरकार के इस फैसले को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि बीजेपी (BJP) वंदे मातरम का राजनीतिकरण करने के साथ-साथ ढोंग कर रही है. सरकार राज्य की मूल परेशानियों से लोगों का ध्यान हटाने की कोशिश कर रही है. इस मुद्दे को लेकर महाराष्ट्र सरकार पर विपक्षी पार्टी कांग्रेस (Congress) के प्रवक्ता चरन सिंह सप्रा ने जमकर हमला बोला.

सप्रा ने कहा कि ‘जय हिंद’ और ‘वंदे मातरम’ तो पहले से ही बोला जाता है. सरकार, राज्य की गंभीर समस्याओं को छोड़कर वंदे मातरम को प्राथमिकता देने में लगी हुई है, इसमें उनकी छुपी हुई राजनीति है. जनता के मुद्दों पर चर्चा करने से शिंदे-बीजेपी सरकार भाग रही है. शिवसेना के उद्धव गुट के प्रवक्ता आनंद दूबे ने भी सरकार के इस फैसले पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि वंदे मातरम तो लोग बहुत पहले से बोलते आ रहे हैं, लेकिन बीजेपी के कहने से लोग बोलने लगेंगे, यह गलत है. बीजेपी ढोंग करके वंदे मातरम का राजनीतिकरण करने में जुटी हुई है.

सांस्कृतिक कार्य मंत्री की घोषणा के बाद आया भूचाल

दरअसल दो दिनों पहले महाराष्ट्र सरकार में सांस्कृतिक कार्य मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने यह घोषणा की थी कि अब से महाराष्ट्र में सभी सरकारी कार्यालयों में अधिकारी और कर्मचारी फोन पर अपनी बात की शुरुआत वंदे मातरम से करेंगे. हैलो के बजाय वंदे मातरम कहना अनिवार्य होगा. इस सिलसिले में आधिकारिक आदेश भी जल्द निकाला जाएगा. ‘हैलो’ इस विदेशी शब्द का त्याग करना जरूरी है. वंदे मातरम सिर्फ एक शब्द नहीं है बल्कि हर भारतीय की भावना है.

अभी सिर्फ घोषणा हुई, पर विपक्ष हुआ आक्रमक 

इस मामले में महाराष्ट्र की शिंदे सरकार की तरफ से अभी सिर्फ घोषणा की गई है. इसको लेकर परिपत्रक अभी निकलना बाकी है, लेकिन उससे पहले ही विपक्ष ने आक्रमकता दिखाते हुए सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. ऐसे में यह देखना अहम होगा कि इस विरोध के बाद शिंदे सरकार का आगे क्या कदम होता है?

Tags: BJP, Congress, Maharashtra Government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर