Home /News /nation /

नेता विश्वविद्यालयों में घोल रहे हैं जहर, अफजल को दे रहे हैं नैतिक समर्थन!

नेता विश्वविद्यालयों में घोल रहे हैं जहर, अफजल को दे रहे हैं नैतिक समर्थन!

जेएनयू का दौरा कर रहे नेता क्या संसद हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थकों को भारत के विभाजन के लिए ‘नैतिक समर्थन’ दे रहे हैं।

जेएनयू का दौरा कर रहे नेता क्या संसद हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थकों को भारत के विभाजन के लिए ‘नैतिक समर्थन’ दे रहे हैं।

जेएनयू का दौरा कर रहे नेता क्या संसद हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थकों को भारत के विभाजन के लिए ‘नैतिक समर्थन’ दे रहे हैं।

    विशाखापट्टनम। विरोधी दलों के नेताओं पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आज सवाल किया कि जेएनयू का दौरा कर रहे नेता क्या संसद हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थकों को ‘नैतिक समर्थन’ मुहैया करा रहे हैं।

    शहरी विकास मंत्री ने कहा, ‘जेएनयू का दौरा कर रहे नेता क्या संसद हमले के दोषी अफजल गुरू के समर्थकों को भारत के विभाजन के लिए ‘नैतिक समर्थन’ दे रहे हैं। वे विश्वविद्यालयों में जहर घोल रहे हैं।’ बेंगलुरू में भारतीय विज्ञान संस्थान आईआईएससी:, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऐडवांस स्टडीज, भारतीय सांख्यिकी संस्थान तथा कुछ दूसरे संस्थानों के करीब 100 शोधार्थियों ने जेएनयू के प्रतिएकजुटता प्रकट हुए प्रदर्शन किया और पुलिस कार्रवाई पर सवाल किया।

    जेएनयू में अध्ययन कर रहे विदेशी छात्रों के एक धड़े और राष्ट्रीय राजधानी में रहने वाले दूसरे विदेशी नागरिकों ने भी विवाद को लेकर जेएनयू के प्रति एकजुटता प्रकट की।

    स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने जेएनयू परिसर में पुलिस की कार्रवाई को ‘भारत की अवधारणा’ पर हमला करार दिया और आरोप लगाया कि विश्वविद्यालयों के आदर्शों के मूल पर हमला करने के लिए छात्र नेता कन्हैया कुमार प्रकरण को रचा गया था।

    वरिष्ठ पत्रकार पी साईनाथ ने कहा, ‘‘यह बहुत मुश्किल समय है। यह आपातकाल के समय की याद दिलाता है।’’

     

    Tags: Afzal guru, Jnu

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर