Assembly Banner 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टीकाकरण पर अब राजनीति, अधीर रंजन बोले- गीतांजलि भी रख लेते तो सब पूरा हो जाता

अधीर रंजन चौधरी (फोटो: ANI/Twitter)

अधीर रंजन चौधरी (फोटो: ANI/Twitter)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने एम्स में कोविड-19 टीके की पहली खुराक ली और उन सभी लोगों से टीका लगवाने की अपील की, जो दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान के तहत इसकी पात्रता रखते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना टीकाकरण (Coronavirus Vaccination) का दूसरा दौर शुरू हो गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सोमवार को वैक्सीन की पहली खुराक मिली. पीएम मोदी द्वारा वैक्सीन लगाए जाने के बाद राजनीति भी शुरू हो गई है. लोकसभा में कांग्रेस नेता और पश्चिम बंगाल कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी  (Adhir Ranjan Chaudhary) ने पीएम द्वारा कोरोना वैक्सीन लगवाने पर सवाल उठाया है.

अधीर ने कहा है कि पीएम मोदी चुनावी राजनीति कर रहे हैं. चौधरी ने आगे कहा, 'पीएम मोदी ने पहले टीका क्यों नहीं लगवाया? जब वैज्ञानिकों ने कहा कि टीका सुरक्षित है, तो वो गए और टीका लगवाया. पहले उन्होंने इसलिए नहीं टीकाकरण कराया क्योंकि वैज्ञानिकों की समिति ने टीके पर सवाल उठाए थे.'

Youtube Video




कांग्रेस नेता ने दावा किया, 'चुनावों को भी ध्यान में रखा गया था क्योंकि नर्स केरल और पुडुचेरी की थीं, जबकि पीएम ने असम का गामोशा पहना हुआ था. मैं कहता हूं कि अगर बंगाल की गीतांजलि भी ले ली होती, तो सब कुछ पूरा हो जाता. हमें केवल पीएम की प्रशंसा क्यों करनी चाहिए, स्वास्थ्य मंत्री और एम्स निदेशक की प्रशंसा क्यों नहीं करनी चाहिए जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन पहले लगवाई.'
मोदी की इस तस्वीर पर शुरू हुई राजनीति
बता दें प्रधानमंत्री ने ट्वीट के साथ ही टीका लगवाते हुए अपनी एक तस्वीर भी साझा की, जिसमें वह असमिया गमछा पहने दिख रहे हैं और मुस्कुराते हुए टीका लगवा रहे हैं. उनके साथ इस तस्वीर में निवेदा के अलावा केरल की रहने वाली एक अन्य नर्स रोसम्मा अनिल भी दिख रही हैं. सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री के एम्स पहुंचने के दौरान किसी भी रास्ते को बंद नहीं किया गया और ना ही यातायात को रोका गया. लोगों को परेशानी न हो, इसलिए उन्होंने टीके के लिए सुबह का समय चुना.



नर्स निवेदा ने बाद में कहा कि टीका लगवाने के बाद प्रधानमंत्री ने उनसे कहा, 'लगा भी दिया, पता भी नहीं चला. उन्होंने बताया कि वह गत तीन साल से एम्स में कार्यरत हैं और इस समय टीकाकरण केंद्र में सेवाएं दे रही हैं. निवेदा ने कहा, 'हमें पता चला कि आज सुबह प्रधानमंत्री टीकाकरण के लिए आ रहे हैं. मैं जब यहां पहुंची तो मुझे यह जानकारी मिली कि प्रधानमंत्री आ रहे हैं. मुझे उनसे मिलकर बहुत खुशी हुई.' नर्स ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी को भारत बायोटेक के कोवैक्सीन टीके की पहली खुराक दी गई है और उन्हें 28 दिन में दूसरी खुराक दी जाएगी.

उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री ने हमसे पूछा कि वह कहां की रहने वाली हैं.' एक अन्य नर्स अनिल ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री से मिलकर बहुत खुशी हुई. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री 'बहुत सहज' थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज