अपना शहर चुनें

States

तमिलनाडु: पोल्लाची यौन उत्पीड़न मामले में AIADMK नेता समेत 3 लोग गिरफ्तार

(सांकेतिक तस्वीर)
(सांकेतिक तस्वीर)

Tamil Nadu Update: यह मामला 2019 के फरवरी महीने में उस समय प्रकाश में आया जब 19 वर्षीय एक छात्रा ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. छात्रा ने 4 लोगों के एक गिरोह पर छेड़खानी और वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने के आरोप लगाए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2021, 2:13 PM IST
  • Share this:
कोयंबटूर. तमिलनाडु के कोयंबटूर जिले के पोल्लाची कस्बे में 2019 में एक युवती के साथ एक गिरोह द्वारा यौन उत्पीड़न (Sexual Harrasment) के मामले में सीबीआई (CBI) ने बुधवार को अन्नाद्रमुक (AIADMK) के एक पदाधिकारी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया. पुलिस ने बताया कि इन सभी आरोपियों को महिला अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने इन सभी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

सीबीआई इस मामले में पांच लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर चुका है. पहले यह जांच सीबी-सीआईडी कर रही थी लेकिन अब सीबीआई के पास जांच का जिम्मा है. मई, 2019 में गिरफ्तार पांच लोगों के खिलाफ आरोप पत्र भी दाखिल किया जा चुका है. उन्होंने बताया कि आगे की जांच के बाद बुधवार तड़के सीबीआई ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के छात्र विंग के नेता अरुनानंदम और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार किया.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में मां-बेटी के साथ यौन उत्पीड़न करते हुए Video वायरल, तीन आरोपी गिरफ्तार



यह मामला 2019 के फरवरी महीने में उस समय प्रकाश में आया जब 19 वर्षीय एक छात्रा ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. छात्रा का आरोप था कि चार लोगों के एक गिरोह ने कार के भीतर उसके कपड़े उतराने की कोशिश की, इस घटना का वीडियो बनाया और उस वीडियो के आधार पर वे उसे ब्लैकमेल (Blackmail) करने लगे.
बाद में यह भी सामने आने लगा कि इस गिरोह ने लंबे समय से पोल्लाची में कई महिलाओं का यौन उत्पीड़न करके उन्हें ब्लैकमेल भी किया है. इस पूरे मुद्दे के प्रकाश में आने के बाद लोगों ने इस पर आक्रोश व्यक्त किया, जिसके बाद तमिलनाडु सरकार ने पहले तो इस मामले की जांच को सीबी-सीआईडी पुलिस को सौंपा और बाद में सीबीआई के हवाले कर दिया.

उस दौरान सामने आए वीडियो में पीड़िता चीखती हुई और आरोपियों से अपना बचाव करती नजर आर रही है. इसके बाद साबरी राजन, बसंतकुमार, सतीश, तिरुनवुकासुरू को गिरफ्तार किया गया था. इंडिया टुडे टीवी से बातचीत में दो पुलिस अधिकारियों ने बताया कि चाल लोगों ने पूरे तमिलनाडु में 2 सालों के भीतर दर्जनों महिलाओं का उत्पीड़न किया है. इनमें से ज्यादातर महिलाएं स्कूल-कॉलेज की छात्र और शिक्षिकाएं थीं. उन्होंने बताया कि आरोपी फेसबुक के जरिए पीड़िताओं को फंसाते थे और चलती फॉर्महाउस, चलती गाड़ी या होटलों में उत्पीड़न करते थे.

(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज