केरल में फिर जोरदार बारिश, मतदान केंद्र डूबे, रेलगाड़ियों की रफ्तार थमी, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

केरल में फिर जोरदार बारिश, मतदान केंद्र डूबे, रेलगाड़ियों की रफ्तार थमी, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट
Karala Rain: मौसम विभाग ने केरल के 12 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. राज्य सरकार ने भारी बारिश से निपटने के लिए कोल्लम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम और पठानमथिट्टा में एनडीआरएफ (NDRF) की टीमों को अलर्ट पर रखा.

Karala Rain: मौसम विभाग ने केरल के 12 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. राज्य सरकार ने भारी बारिश से निपटने के लिए कोल्लम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम और पठानमथिट्टा में एनडीआरएफ (NDRF) की टीमों को अलर्ट पर रखा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2019, 1:31 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) के कई हिस्सों में सोमवार को भारी बारिश हुई. इस बारिश के चलते एर्नाकुलम (Ernakulam) उपचुनाव बाधित हो गया. मौसम विभाग ने 12 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इस भारी बारिश के कारण ट्रेनों के साथ-साथ निचले इलाकों में वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है. राज्य सरकार ने भारी बारिश से निपटने के लिए कोल्लम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम और पठानमथिट्टा में एनडीआरएफ (NDRF) की टीमों को अलर्ट पर रखा.

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने लोगों को सावधानी बरतने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि 'राज्य के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश हो रही है. हम स्थिति पर करीब से नजर रख रहे हैं. स्थानीय अधिकारियों से मिले निर्देशों का पालन करें. निकासी और राहत शिविरों के बारे में निर्देशों को देखें. अगर घर खाली करने की सलाह दी जाती है, तो तुरंत करें,'

अब तक के चुनावों की बात करें तो सबसे ज्यादा प्रभावित एर्नाकुलम और कोनी निर्वाचन क्षेत्र थे, जिनमें क्रमशः 9 बजे तक 4.9 प्रतिशत और 11.5 प्रतिशत मतदान हुआ. अन्य तीन निर्वाचन क्षेत्रों वातियूरकवु में 11.5 प्रतिशत, अरूर में 12.8 प्रतिशत और मंजेस्वरम में सुबह 9 बजे तक 16.5 प्रतिशत मतदान हुआ.





मतदान केंद्रों से ली जा रही है रिपोर्ट
केरल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टीका राम मीणा ने कहा, 'एर्नाकुलम विधानसभा क्षेत्र में कुछ मतदान केंद्रों को भूतल से पहली मंजिल पर स्थानांतरित कर दिया गया है. पुलिस सहित करीब 500 अधिकारी व्यवस्था कर रहे हैं.हम निर्वाचन क्षेत्रों के जिला कलेक्टरों से रिपोर्ट की प्रतीक्षा करेंगे. हमने कुछ स्थानों पर मतदाताओं को मतदान केंद्रों तक पहुंचाने की व्यवस्था की है.अगर जरूरत पड़ी तो हम मतदान का समय भी बढ़ाएंगे.'

एर्नाकुलम दक्षिण, पनमबिली नगर और अयप्पनकवु सहित कोच्चि शहर के कई इलाकों में जलभराव हो गया.बारिश से प्रभावित लोगों को स्थानांतरित करने के लिए एर्नाकुलम जिले में तीन शिविर खोले गए हैं.

रेलवे अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि भारी बारिश और जलभराव के कारण एर्नाकुलम में स्टेशनों के माध्यम से ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुई हैं. दक्षिणी रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा, 'एर्नाकुलम जंक्शन और एर्नाकुलम टाउन स्टेशनों को जलभराव हो जाता है, इन स्टेशनों के माध्यम से सभी दिशाओं में ट्रेन सेवा में देरी होगी.'

स्थिति इतनी बदतर हो गई कि कई लोग रेलवे स्टेशनों पर कई घंटों तक फंसे रह गए. अधिकारियों ने कहा कि कुछ लोकल ट्रेनों को रद्द कर दिया गया, वहीं कुछ लंबी दूरी की ट्रेनों को फिर से चलाया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज