लाइव टीवी

केरल की नन मरियम थ्रेसिया को पोप फ्रांसिस ने दी संत की उपाधि

News18Hindi
Updated: October 13, 2019, 5:37 PM IST
केरल की नन मरियम थ्रेसिया को पोप फ्रांसिस ने दी संत की उपाधि
केरल की नन मरियम थ्रेसिया को वेटिकन सिटी में आज संत की उपाधि दी गई.

वेटिकन सिटी (Vetical City) के सेंट पीटर्स स्क्वेयर (st. peter square) में दोपहर डेढ़ बजे पोप फ्रांसिस (Pope Francis) ने केरल (Kerala) की नन मरियम थ्रेसिया (Mariam Thresia) को संत की उपाधि दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2019, 5:37 PM IST
  • Share this:
केरल (Kerala) की नन मरियम थ्रेसिया (Mariam Thresia) को वेटिकन सिटी (Vetical City) में हुए एक भव्य समारोह में पोप फ्रांसिस (Pope Francis) ने संत की उपाधि दी. नन मरियम थ्रेसिया को उनके निधन के 93 साल बाद यह उपाधि दी गई है. वेटिकन सिटी के सेंट पीटर्स स्क्वेयर (St. Peter Square) में दोपहर डेढ़ बजे पोप फ्रांसिस ने नन मरियम थ्रेसिया को संत की उपाधि दी. भारतीय नन मरियम थ्रेसिया के साथ ही चार अन्य सिस्टर्स को भी पोप फ्रांसिस द्वारा संन्यासी की उपाधि दी गई.

सिस्टर थ्रेसिया ने मई 1914 में त्रिशूर में 'कांग्रीगेशन ऑफ द सिस्टर्स ऑफ द होली फैमिली' की स्थापना की थी. सिस्टर थ्रेसिया का आठ जून, 1926 को 50 वर्ष की आयु में निधन हो गया था. केरल की नन थ्रेसिया के अलावा अंग्रेजी कार्डिनल जॉन हेनरी न्यूमैन, स्विस लेवोमन मार्गगुइट बेयस, ब्राजीलियन सिस्टर दुलस लोप्स और इतालवी सिस्टर गिउसेपिना वन्नीनी को भी संत की उपाधि दी गई है.
समारोह के दौरान पांच नए संतों के विशाल फोटो सेंट पीटर्स में लगाए गए हैं. इस भव्य समारोह में हजारों भक्तों ने शिरकत की. इस मौके पर विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया.

सिस्टर थ्रेसिया का आठ जून, 1926 को 50 वर्ष की आयु में निधन हो गया था.


प्रधानमंत्री ने कहा था, 'सिस्टर थ्रेसिया ने 50 साल के अपने छोटे से जीवनकाल में ही मानवता की भलाई के लिए जो कार्य किए, वो पूरी दुनिया के लिए एक मिसाल हैं. सिस्टर थ्रेसिया ने जो भी कार्य किया, उसे निष्ठा और लगन के साथ पूरे समर्पण भाव से पूरा किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि समाज सेवा और शिक्षा के क्षेत्र से, उनका अद्भुत लगाव था. उन्होंने कई स्कूल, छात्रावास और अनाथालय बनवाए.

Kerala, Mariam Thresia, Vetical City, Pope Francis,st. peter square, Catholic Church,
वेटिकन सिटी में पोप फ्रांसिस ने केरल की नन मरियम थ्रेसिया को संत की उपाधि दी.


मदर टेरेसा से की जाती है तुलना
Loading...

केरल के त्रिशूर जिले के पुथेनचिरा में जन्मी मरियम थ्रेसिया और मदर टेरेसा में काफी समानता दिखाई देती है. सिस्टर मरियम ने होली फैमिली नाम की एक धर्मसभा की स्थापना की थी. सिस्टर मरियम को लड़कियों की शिक्षा और उनके सशक्तीकरण के लिए हमेशा याद किया जाता रहेगा. 1914 में बनाई इस इस संस्था में अभी 2000 नन मौजूद हैं.

यह भी पढ़ें- 

जानें 'संत' घोषित होने जा रहीं भारत की ये नन कौन हैं
ऊं या श्री गणेश नम: नहीं, बिस्मिल्लाह से शुरू होती है ये रामायण
जपजी साहब : गुरूनानकजी की जोत का 19 भाषाओं में अनुवाद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 3:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...