• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • डोकलाम विवाद के बाद ही LAC पर चीन ने शुरू कर दी थी तैयारियां, बनाए कई कैंप

डोकलाम विवाद के बाद ही LAC पर चीन ने शुरू कर दी थी तैयारियां, बनाए कई कैंप

चीन ने 2017 में हुए डोकलाम विवाद के बाद ही सीमा पर अपनी तैयारियां शुरू कर दी थी. (तस्वीर-ANI)

चीन ने 2017 में हुए डोकलाम विवाद के बाद ही सीमा पर अपनी तैयारियां शुरू कर दी थी. (तस्वीर-ANI)

एएनआई ने एक रिपोर्ट में बताया है कि वर्तमान सीमा विवाद जैसी स्थिति से निपटने के लिए चीन ने 2017 में डोकलाम विवाद (Doklam Dispute) के बाद ही तैयारी शुरू कर दी थी. रिपोर्ट में कहा गया है कि लद्दाख (Ladakh) से लेकर अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) तक LAC के नजदीक के इलाकों में अपने कैंप बनाने शुरू कर दिए थे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत और चीन (India-China) बीते अप्रैल महीने से लगातार लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर विवाद में उलझे हुए हैं. अब समाचार एजेंसी एएनआई ने एक रिपोर्ट में बताया है कि वर्तमान सीमा विवाद जैसी स्थिति से निपटने के लिए चीन ने 2017 में डोकलाम विवाद (Doklam Dispute) के बाद ही तैयारी शुरू कर दी थी. रिपोर्ट में कहा गया है कि लद्दाख (Ladakh) से लेकर अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) तक LAC के नजदीक के इलाकों में अपने कैंप बनाने शुरू कर दिए थे.

    एक सरकारी सूत्र के हवाले से समाचार एजेंसी ने बताया है-चीनियों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा के नजदीक अपने इलाकों में कई मिलिट्री कैंप्स बनाए हैं. इस तरह के करीब 20 कैंप्स को आम नागरिकों द्वारा देखा गया है. ऐसे कैंप चीनी सेना को LAC पर नजर रखने की बेहतर सुविधा मुहैया कराते हैं. साथ ही किसी भी विपरीत परिस्थिति में कार्रवाई करने में भी आसानी होती है.

    क्या है डोकलाम विवाद?
    डोकलाम एक विवादित भूभाग है जिसपर चीन और भूटान दोनों ही अपना दावा ठोंकते हैं. भारत मानता है कि वह भूखंड भूटान का है. इसके साथ ही यह इलाका भारतीय मुख्य भू-भाग को नॉर्थ ईस्ट से जोड़ने वाले चिकन नेक के बेहद करीब है इसलिये यह सामरिक दृष्टि से भी भारत के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. 2017 के जून महीने में चीनी सेना ने इस इलाके में सड़क निर्माण शुरू कर दिया. भूटान की तरफ मदद का हाथ बढ़ाते हुए भारतीय सेना डोकलाम तक पहुंच गई और उसने सड़क निर्माण कार्य रोक दिया. इसके बाद 73 दिनों तक दोनों देशों की सेनाएं उसी स्थिति में तैनात रहीं. राजनयिक बातचीत के बाद अगस्त में गतिरोध तो समाप्त हो गया लेकिन दोनों देशों के रिश्तों में ठंडापन आ गया.

    चीन की बस्ती की खबर
    बीते महीने खबर आई थी कि चीन ने भूटान की जमीन पर बॉर्डर से 12 किलोमीटर अंदर अपनी दूसरी नागरिक बस्तियों को बसाया है. सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा हुआ है कि चीन ने भूटान की सीमा के अंदर सड़क और नागरिक बस्तियों का निर्माण किया है. सैटेलाइट तस्वीरों से यह खुलासा हुआ कि चीन ने भूटान की अमो चू नदी के साथ लगने वाली जमीन का बड़ा हिस्सा हड़प लिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज