MP चुनाव: पुलिस कैंटीन में पड़े मिले पोस्टल बैलेट, कांग्रेस हुई आग बबूला

कांग्रेस नेता कृष्णा घटगे ने News18 से बातचीत में कहा, 'मैंने वहां कैंटीन के अंदर पोस्टल बैलेट के 250 लिफाफे और बाहर तीन लिफाफे ऐसे ही रखे देखे, जिसे कोई पूछने वाला नहीं था.'

News18Hindi
Updated: December 5, 2018, 12:27 PM IST
News18Hindi
Updated: December 5, 2018, 12:27 PM IST
मध्य प्रदेश में ईवीएम के रखरखाव में कथित गड़बड़ी की शिकायतों के बाद अब पोस्टल बैलेट को लेकर सवाल उठने लगे हैं. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को एमपी पुलिस की भोपाल स्थित कैंटीन में कुछ पोस्टल बैलेट यूं ही टेबल पर पड़े देखे.

मध्य प्रदेश में चुनावी ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों के लिए करीब 4,000 पोस्टल जारी किए गए थे, जिन्होंने 18 नवंबर को अपने वोट डाले. पुलिस, विशेष सैन्य बल (एसएएफ) और होम गार्ड के लिए जारी ये पोस्टल बैलेट 11 दिसंबर को मतगणना के दिन चुनाव आयोग पहुंचने थे.

हालांकि इसी बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भोपाल के जहांगीराबाद इलाके में पुलिस मुख्यालय के बगल में स्थित होम गार्ड ऑफिस की कैंटीन में ये पोस्टल बैलेट पड़े देखे. कांग्रेस नेता कृष्णा घटगे  ने News18 से बातचीत में कहा, 'मैं मंगलवार को होम गार्ड की कैंटीन में पहुंचता तो मुझे इसकी खबर मिली. मैंने वहां कैंटीन के अंदर पोस्टल बैलेट के 250 लिफाफे और बाहर तीन लिफाफे ऐसे ही रखे देखे, जिसे कोई पूछने वाला नहीं था.'

ये भी पढ़ें- आखिर क्यों मचा है मतगणना से पहले शिवराज की कैबिनेट बैठक पर बवाल!

घटगे का आरोप है कि ये पोस्टल बैलेट पिछले तीन दिनों से कैंटीन में पड़े हुए थे. उन्होंने कहा कि पार्टी इस गंभीर गड़बड़ी की राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी से शिकायत करेगी.

वहीं दक्षिण पश्चिम भोपाल सीट से कांग्रेस उम्मीदवार सहित पार्टी के कई नेता खबर मिलते ही होमगार्ड की कैंटीन पहुंच गए. शर्मा ने अधिकारियों मध्य प्रदेश में चुनाव प्रक्रिया को मज़ाक बनाने का आरोप लगाते हुए कहा, 'हमें होमगार्ड कैंटीन की टेबल पर कई पोस्टल बैलेट यूं ही पड़े दिखे और इनमें से कुछ लिफाफे तो खुले हुए भी थे.'

ये भी पढ़ें- सत्ता में लौटने की तैयारी में कांग्रेस! चिदंबरम बना रहे हैं कर्ज़ माफ़ी का ब्लूप्रिंट
Loading...

कांग्रेस द्वारा इस मामले में हंगामे के बाद भोपाल के कलेक्टर और डिस्ट्रिक्ट रिटर्निंग ऑफिसर सुदामा खाड़े ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->