प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बोले PM मोदी- कोरोना काल में भारत ताकतवर बना

प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया उद्घाटन

प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया उद्घाटन

इस बार प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन (Pravasi Bharatiya Divas 2021) का विषय ‘आत्मनिर्भर भारत में योगदान’ रखा गया है. पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा, जो प्रोडेक्ट भारत (India) में बनेंगे, उससे पूरी दुनिया को लाभ होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 12:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी के बीच 16वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन (Pravasi Bharatiya Divas 2021) का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने डिजिटल माध्यम से उद्घाटन किया. इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना काल में भारत (India) ताकतवर बना है. प्रधानमंत्री ने कहा, 'आज भारत दुनिया के सबसे कम फैटरलिटि रेट और सबसे अधिक रिकवरी रेट में से एक है. भारत में इस समय एक नहीं दो कोविड वैक्सीन को मंजूरी मिल चुकी है. दुनिया की नजर इस पर भी है कि भारत कैसे सबसे बड़ा वैक्सिनेशन प्रोग्राम चलाता है.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि भारत के लोकतंत्र पर एक वक्त संदेह प्रकट किया गया था, लेकिन आज भारत ही वह स्थान है जहां लोकतंत्र सबसे अधिक मजबूत है और सबसे जीवंत है. उन्होंने कहा कि आधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल कर गरीबों को सशक्त करने के भारत के प्रयासों पर पूरी दुनिया चर्चा कर रही है.

मोदी ने कहा, 'आज भारत एक नहीं, बल्कि दो ‘मेड इन इंडिया’ कोरोना वायरस टीकों के साथ मानवता की सुरक्षा के लिए तैयार है.' प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जैसा इतना बड़ा लोकतांत्रिक देश जिस एकजुटता के साथ खड़ा हुआ है, उसकी मिसाल दुनिया में नहीं है. उन्होंने कहा, 'भारत के लोकतंत्र पर एक वक्त संदेह प्रकट किया गया था, लेकिन आज भारत ही वह स्थान है जहां लोकतंत्र सबसे अधिक मजबूत है और सबसे जीवंत है.'

बता दें कि इस बार प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का विषय ‘आत्मनिर्भर भारत में योगदान’ रखा गया है. सम्मेलन को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, जो प्रोडेक्ट भारत में बनेंगे, उससे पूरी दुनिया को लाभ होगा. दुनिया इस बात को नहीं भूल सकती है कि वाईटूके (Y2K) के सामने भारत की क्या भूमिका रही और चिंतामुक्त किया था. भारत जिस भी क्षेत्र में समर्थ होता है उसका लाभ पूरी दुनिया में फैलता है. भारत की इस सफलता में आप सभी प्रवासी भारतीयों का भी योगदान है.


प्रवासी भारतीय समुदाय के योगदान की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'आप जहां गए भारतीयता को साथ लेकर गए और भारतीयता से जीते रहे और लोगों को जगाते रहे. आप सभी ने फूड, फैशन और फैमली वैल्यू से भारतीयता का प्रसार किया है. दुनिया में भारतीयता के कल्चर का विस्तार हुआ है तो आप सभी के जीवन आचरण के कारण ये सब संभव हुआ है. भारत में कभी भी कुछ भी न थोपा है न कोशिश की है और न ही सोचा है. आप सभी ने जहां आप रह रहे हैं, वहां और भारत में कोविड के खिलाफ लड़ाई में बड़ा योगदान किया है. पीएम केयर्स में दिया गया आपका योगदान भारत में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत कर रहा है.'

इसे भी पढ़ें :- खाड़ी देशों में रह रहे प्रवासी भारतीयों को पोस्टल वोटिंग के लिए करना पड़ेगा इंतजार



पीएम मोदी ने रिश्ता पोर्टल की शुरुआत की

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, भारत सरकार हर वक्त आपके साथ खड़ी है. दुनियाभर में भारतीय समुदाय के साथ बेहतर कनेक्टिविटी के लिए रिश्ता नाम का नया पोर्टल शुरू किया गया है. इस पोर्टल से मुश्किल समय में अपने समुदाय से संपर्क करना, उन तक पहुंचना आसान होगा. ये समय उन साथियों और सेनानियों को याद करने का है जिन्होंने भारत से बाहर रहते हुए भारत की आजादी के लिए काम किया है.(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज