होम /न्यूज /राष्ट्र /कनाडा को ठिकाना बना चुके गैंगस्टरों पर शिकंजा कसने की तैयारी, 'टेररिस्ट' घोषित करेगी सरकार

कनाडा को ठिकाना बना चुके गैंगस्टरों पर शिकंजा कसने की तैयारी, 'टेररिस्ट' घोषित करेगी सरकार

एनआईए ने कनाडा में बसे कई गैंगस्टरों को व्यक्तिगत आतंकवादी घोषित करने की तैयारी शुरू की है.  (ANI)

एनआईए ने कनाडा में बसे कई गैंगस्टरों को व्यक्तिगत आतंकवादी घोषित करने की तैयारी शुरू की है. (ANI)

विदेशों में बसे और खासकर कनाडा में रहने वाले गैंगस्टरों के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने कड़ी कार्रवाई करने की ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कनाडा में बसे गैंगस्टरों पर सरकार ने शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है.
एनआईए ने कनाडा में रह रहे कई गैंगस्टरों को व्यक्तिगत आतंकवादी घोषित करने की योजना बनाई.
इस लिस्ट में सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ जैसे कई गैंगस्टरों के नाम शामिल करने पर चर्चा हुई.

नई दिल्ली. देश में गैंगस्टर आतंकवादी गठजोड़ का एक हिस्सा हैं और कथित तौर पर विदेशी धरती से पंजाब में टारगेट किलिंग में शामिल रहते हैं. अब ऐसे गैंगस्टरों पर सरकार ने शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कनाडा में स्थित कई वांछित गैंगस्टरों को गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत व्यक्तिगत आतंकवादी (individual terrorists) घोषित करने की योजना बना रही है.

हिन्दुस्तान टाइम्स की एक खबर के मुताबिक इस घटनाक्रम से परिचित लोगों ने कहा कि हाल ही में एनआईए की एक उच्च स्तरीय बैठक के दौरान यूएपीए की लिस्ट में सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ जैसे गैंगस्टरों के नाम शामिल करने पर चर्चा हुई, जो गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड था. इसके साथ ही अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श डाला, लखबीर सिंह उर्फ लांडा, चरणजीत सिंह उर्फ बिहला, रमनदीप सिंह उर्फ रमन जज, गुरपिंदर सिंह उर्फ बाबा डल्ला और सुखदुल सिंह उर्फ सुखा दुनेके के नाम भी यूएपीए की लिस्ट में शामिल करने की बात कही गई. ये सभी कनाडा में रहते हैं.

डाला का नाम गृह मंत्रालय (एमएचए) को ‘व्यक्तिगत आतंकवादी’ घोषित करने के लिए भेजा जा रहा है. जल्द ही कई और लोगों को इस लिस्ट में शामिल किया जा सकता है. डाला इस समय ब्रिटिश कोलंबिया में है. वह NIA और पंजाब पुलिस द्वारा ड्रग्स और हथियारों की तस्करी, UAPA, आदि के मामलों में वांछित है. एनआईए ने उस पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है. यह पहली बार होगा कि गैंगस्टरों को व्यक्तिगत आतंकवादी करार दिया जाएगा.

मूसेवाला हत्याकांड: गोल्डी बरार के खिलाफ इंटरपोल ने जारी किया रेड कॉर्नर नोटिस, जानिए क्या होता है इसका मतलब

यूएपीए के तहत व्यक्तिगत आतंकवादियों की सूची में वर्तमान में 48 व्यक्तियों के नाम हैं, लेकिन उनमें से अधिकांश पाकिस्तान समर्थित इस्लामिक आतंकी संगठनों या खालिस्तानी समूहों से जुड़े हैं. जिन लोगों को नामित किया गया है, उनमें जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर, लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज सईद, अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम, अमेरिका स्थित सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के नेता गुरपतवंत सिंह पन्नून शामिल है. इसके साथ ही बब्बर खालसा इंटरनेशनल का यूके प्रमुख- परमजीत सिंह, कनाडा स्थित खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) का प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर और जर्मनी स्थित खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (केजेडएफ) का गुरमीत सिंह बग्गा भी इस लिस्ट में हैं.

Tags: Canada, Gangsters in Punjab, National Investigation Agency, NIA, Terrorists

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें