लाइव टीवी

जिनपिंग-मोदी वार्ता के लिए कड़ी निगरानी के बीच तैयारियां अंतिम दौर में

भाषा
Updated: October 10, 2019, 7:05 AM IST
जिनपिंग-मोदी वार्ता के लिए कड़ी निगरानी के बीच तैयारियां अंतिम दौर में
शी-मोदी वार्ता के लिए कड़ी निगरानी के बीच तैयारियां अंतिम दौर में. (पुरानी तस्वीर)

स्थानीय मछुआरों को भी गुरुवार से समुद्र से दूर रहने को कहा गया है. सादे कपड़ों में पुलिस (Police) के जवान आसपास के इलाकों की निगरानी कर रहे हैं.

  • Share this:
मामल्लापुरम. तमिलनाडु (Tamilnadu) की राजधानी चेन्नई के नजदीक तटीय शहर मामल्लापुरम में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi jinping) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के बीच 11 और 12 अक्टूबर को होने जा रहे दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक को लेकर पूरे शहर को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है. साथ ही, इलाके का सौंदर्यीकरण और अन्य तैयारियां अंतिम चरण में है.

पांच हजार से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती
शहर के पास तटरक्षक के जहाज ने लंगर डाल दिया है. तमिलनाडु के विभिन्न हिस्सों से आए पांच हजार से अधिक पुलिसकर्मियों की यहां तैनाती की गई है. उच्च सुरक्षा के मद्देनजर दो शीर्ष पुलिस अधिकारियों की तैनाती करने के साथ-साथ दर्जनों अस्थायी पुलिस चौकियां बनाई गई है. शहर में 800 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं जिसके जरिये सड़कों और अन्य रास्तों की 24 घंटे निगरानी की जा रही है.

मामल्लापुरम पहुंचे 'पीटीआई-भाषा' के संवाददाता ने तट पर बने मंदिर के पीछे तटरक्षक बल के एक पोत को लंगर डाले देखा जबकि दूसरा जहाज कुछ दूरी पर गश्त करते हुए दिखा. तैनाती के बारे में पूछने पर रक्षा अधिकारी ने कहा कि यह असामान्य नहीं है. हालांकि, उन्होंने विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया. तटीय शिव मंदिर के नजदीक तट पर अवरोधक लगाए गए हैं यह वह स्थान है जहां मोदी-जिनपिंग आएंगे.

नेताओं की तस्वीर वाले बैनर लगाए गए 
स्थानीय मछुआरों को भी गुरुवार से समुद्र से दूर रहने को कहा गया है. सादे कपड़ों में पुलिस के जवान आसपास के इलाकों की निगरानी कर रहे हैं. विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) और बम निरोधक दस्ते के जवान भी स्मारक सहित विभिन्न इलाकों की निगरानी कर रहे हैं. दो दर्शन के करीब खोजी श्वान को तैनात किया गया है. जगह-जगह दोनों नेताओं की तस्वीर वाले बैनर लगाए गए हैं.

यह भी पढ़ें:
Loading...

इस दिन होगी PM मोदी-शी जिनपिंग की अनौपचारिक बातचीत! इन बातों पर रहेगा जोर

पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन बोले- ट्रंप के खिलाफ महाभियोग चलाया जाना चाहिए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 6:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...