Home /News /nation /

राष्ट्रपति का अभिभाषणः भारत में बन रही वैक्सीन से पूरी दुनिया का भला, जीवन को बचाने में हमारी महत्वपूर्ण भूमिका

राष्ट्रपति का अभिभाषणः भारत में बन रही वैक्सीन से पूरी दुनिया का भला, जीवन को बचाने में हमारी महत्वपूर्ण भूमिका

 राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के बजट सत्र को संबोधित कर रहे हैं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के बजट सत्र को संबोधित कर रहे हैं.

President Ramnath Kovind address in parliament :राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के बजट सत्र को संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने अपने अभिभाषण में केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाईं. उन्होंने कहा कि भारत में बन रही वैक्सीन्स पूरी दुनिया को महामारी से मुक्त कराने और करोड़ों लोगों का जीवन बचाने में अहम भूमिका निभा रही हैं. उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा 64 हजार करोड़ रुपए की लागत से शुरू किया गया प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इनफ्रास्ट्रक्चर मिशन एक सराहनीय उदाहरण है. इससे न केवल वर्तमान की स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी, बल्कि आने वाले संकटों के लिए भी देश को तैयार किया जा सकेगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) संसद के बजट सत्र को संबोधित कर रहे हैं. उन्होंने अपने अभिभाषण में केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाईं. उन्होंने कहा कि भारत में बन रही वैक्सीन्स पूरी दुनिया को महामारी से मुक्त कराने और करोड़ों लोगों का जीवन बचाने में अहम भूमिका निभा रही हैं. उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा 64 हजार करोड़ रुपए की लागत से शुरू किया गया प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इनफ्रास्ट्रक्चर मिशन एक सराहनीय उदाहरण है. इससे न केवल वर्तमान की स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी, बल्कि आने वाले संकटों के लिए भी देश को तैयार किया जा सकेगा.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई में भारत के सामर्थ्य का प्रमाण कोविड वैक्सीनेशन प्रोग्राम में नजर आया है. हमने एक साल से भी कम समय में 150 करोड़ से भी ज्यादा वैक्सीन डोज़ लगाने का रेकॉर्ड पार किया. आज हम पूरी दुनिया में सबसे अधिक वैक्सीन डोज देने वाले देशों में प्रमुख हैं.

भारत की तीन वैक्सीन को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी 
आज देश में 90 प्रतिशत से अधिक वयस्क नागरिकों को टीके की एक डोज़ मिल चुकी है, जबकि 70 प्रतिशत से अधिक लोग दोनों डोज़ ले चुके हैं. उन्होंने कहा कि अब तक 8 वैक्सीन को इमरजेंसी यूज के लिए स्वीकृति मिल चुकी है. भारत में बन रही तीन वैक्सीन को डब्ल्यूएचओ की तरफ से आपात स्थिति में उपयोग के लिए मंजूरी दी जा चुकी है. भारत में बन रही ये वैक्सीन पूरी दुनिया को महामारी से मुक्त कराने और करोड़ों लोगों के जीवन को बचाने में अहम भूमिका निभा रही है.

80 हजार वेलनेस सेंटर्स 
राष्ट्रपति ने कहा, मेरी सरकार की संवेदनशील नीतियों के कारण देश में अब स्वास्थ्य सेवाएँ जन साधारण तक आसानी से पहुंच रही हैं. 80 हजार से अधिक हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर्स और करोड़ों की संख्या में जारी आयुष्मान भारत कार्ड से गरीबों को इलाज में बहुत मदद मिली है. उन्होंने कहा, सरकार ने 8000 से अधिक जन-औषधि केंद्रों के माध्यम से कम कीमत पर दवाइयां उपलब्ध कराकर, इलाज पर होने वाले खर्च को कम किया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, कठिन परिस्थितियों में केंद्र से लेकर राज्य तक हमारी सभी सरकारें, वैज्ञानक, डॉक्टर, हेल्थ वर्कर सभी ने एक टीम के रूप में काम किया है. इसके लिए मैं देश के सभी हेल्थ और फ्रंटलाइन वर्कर और नागरिकों का अभिनंदन करता हूं.

Tags: Parliament, President Ramnath Kovind

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर