• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले- हमारी सेना किसी भी दुस्साहस को विफल करने के लिए तैयार | 10 बातें

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले- हमारी सेना किसी भी दुस्साहस को विफल करने के लिए तैयार | 10 बातें

राष्ट्रपति कोविंद (File)

राष्ट्रपति कोविंद (File)

President Ramnath Kovind Addres the Nation: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले साल लद्दाख में चीनी सेना की कार्रवाई को उसकी विस्तारवादी ‘‘गतिविधि’’ करार दिया और कहा कि भारत शांति के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन भारतीय सुरक्षा बल किसी भी ‘‘दुस्साहस’’ को विफल करने के लिए पूरी तैयारी के साथ तैनात हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने पिछले साल लद्दाख में चीनी सेना (Chinese Army) की कार्रवाई को उसकी विस्तारवादी ‘‘गतिविधि’’ करार दिया और कहा कि भारत शांति के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन भारतीय सुरक्षा बल किसी भी ‘‘दुस्साहस’’ को विफल करने के लिए पूरी तैयारी के साथ तैनात हैं.

    उन्होंने 72वें गणतंत्र दिवस (Republic Day 2021) की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, 'प्रत्येक परिस्थिति में, अपने राष्ट्रीय हितों की रक्षा करने के लिए हम पूरी तरह सक्षम हैं.' उन्होंने कहा, पिछले साल, कई मोर्चों पर, अनेक चुनौतियां हमारे सामने आईं. हमें, अपनी सीमाओं पर विस्तारवादी गतिविधियों का सामना करना पड़ा. लेकिन हमारे बहादुर सैनिकों ने उन्हें नाकाम कर दिया.



    आइए जानते हैं राष्ट्र के नाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के संबोधन की 10 खास बातें...
    इस घटना में बलिदान देने वाले भारतीय जवानों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि देशवासी उन ‘‘अमर जवानों’’ के प्रति कृतज्ञ हैं. उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि हम शांति के लिए अपनी प्रतिबद्धता पर अटल हैं, फिर भी हमारी थल सेना, वायु सेना और नौसेना – हमारी सुरक्षा के विरुद्ध किसी भी दुस्साहस को विफल करने के लिए पूरी तैयारी के साथ तैनात हैं.’’
    राष्ट्रपति ने कहा कि भारत के सुदृढ़ और सिद्धान्त-परक रवैये के विषय में अंतरराष्ट्रीय समुदाय भली-भांति अवगत है. राष्ट्रपति ने इस अवसर पर तीन कृषि कानूनों को लेकर किसानों की चिंताओं को दूर करने का प्रयास किया.
    उन्होंने कहा, ‘‘सुधार की प्रक्रिया शुरुआती दौर में है और इससे लोगों की चिंताएं हो सकती हैं लेकिन सरकार सरकार किसानों के कल्याण के प्रति समर्पित है.''
    कोविंद ने कहा, सियाचिन व गलवान घाटी में, माइनस 50 से 60 डिग्री तापमान में, सब कुछ जमा देने वाली सर्दी से लेकर, जैसलमर में, 50 डिग्री सेन्टीग्रेड से ऊपर के तापमान में, झुलसा देने वाली गर्मी में - धरती, आकाश और विशाल तटीय क्षेत्रों में - हमारे सेनानी भारत की सुरक्षा का दायित्व हर पल निभाते हैं. हमारे सैनिकों की बहादुरी, देशप्रेम और बलिदान पर हम सभी देशवासियों को गर्व है.
    उन्होंने कहा कि संविधान की उद्देशिका में रेखांकित न्याय, स्वतंत्रता, समता और बंधुता के जीवन-मूल्य हम सबके लिए पुनीत आदर्श हैं. यह उम्मीद की जाती है कि केवल शासन की ज़िम्मेदारी निभाने वाले लोग ही नहीं, बल्कि हम सभी सामान्य नागरिक भी इन आदर्शों का दृढ़ता व निष्ठापूर्वक पालन करें.
    उन्होंने कहा कि मातृभूमि के स्वर्णिम भविष्य की उनकी परिकल्पनाएं अलग-अलग थीं परंतु न्याय, स्वतंत्रता, समता और बंधुता के मूल्यों ने उनके सपनों को एक सूत्र में पिरोने का काम किया.
    राष्ट्रपति ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण, हमारे बच्चों और युवा पीढ़ी की शिक्षा प्रक्रिया के बाधित होने का खतरा पैदा हो गया था. लेकिन हमारे संस्थानों और शिक्षकों ने नई टेक्नॉलॉजी को शीघ्रता से अपनाकर यह सुनिश्चित किया कि विद्यार्थियों की शिक्षा निरंतर चलती रहे. इस महामारी ने, देश के लगभग डेढ़ लाख नागरिकों को अपनी चपेट में ले लिया. उन सभी के शोक संतप्त परिवारों के प्रति, मैं अपनी संवेदना प्रकट करता हूं.
    राष्ट्रपति ने कहा कि बिहार जैसी घनी आबादी वाले राज्य तथा जम्मू-कश्मीर व लद्दाख जैसे दुर्गम व चुनौती भरे क्षेत्रों में निष्पक्ष व सुरक्षित चुनाव सम्पन्न कराना हमारे लोकतन्त्र एवं चुनाव आयोग की सराहनीय उपलब्धि रही है. टेक्नॉलॉजी की सहायता से न्यायपालिका ने न्याय उपलब्ध कराने की प्रक्रिया जारी रखी.
    उन्‍होंने कहा कि हाल ही में दर्ज की गयी जी.एस.टी. की रि‍कॉर्ड वृद्धि और विदेशी निवेश के लिए आकर्षक अर्थव्यवस्था के रूप में भारत का उभरना, तेजी से हो रही हमारी ‘इकनॉमिक रिकवरी’ के सूचक हैं.
    राष्ट्रपति ने कहा, मेरे विचार में, सन 2020 को सीख देने वाला वर्ष मानना चाहिए. पिछले वर्ष के दौरान प्रकृति ने बहुत कम समय में ही अपना स्वच्छ और निर्मल स्वरूप फिर से प्राप्त कर लिया था. ऐसा साफ-सुथरा प्राकृतिक सौंदर्य, बहुत समय के बाद देखने को मिला.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज