लाइव टीवी

राजघाट पर बापू को राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

News18Hindi
Updated: January 30, 2020, 11:09 AM IST
राजघाट पर बापू को राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राष्ट्रपिता को सलामी देते राष्ट्रपति कोविंद

30 जनवरी 1948 को शाम की प्रार्थना के लिए जा रहे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की नयी दिल्ली के बिड़ला भवन में हत्या कर दी गई ती. तभी से इस दिन को शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2020, 11:09 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्र आज अपने राष्ट्रपिता मोहन दास करमचंद गांधी (MohanDas Karam Chand Gandhi) के प्रति कृतज्ञ है. देश भर में लोग बापू को उनकी पुण्यतिथि पर याद कर रहे है. इसी कड़ी में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में राजघाट पर गणमान्यों ने बापू को श्रद्धांजलि दी. एक सभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वैंकेया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बापू को श्रद्धासुमन अर्पित किये. बता दें गुरुवार को बापू की 72वीं पुण्यतिथि है.

गुरुवार को राजघाट पर विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता भी बापू को श्रद्धांजलि देने पहुंचे. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने श्रद्धासुमन अर्पित किये. 30 जनवरी 1948 का दिन कहने को तो साल के बाकी दिनों जैसा ही था, लेकिन शाम होते होते यह इतिहास में सबसे दुखद दिनों में शुमार हो गया. दरअसल 30 जनवरी 1948 की शाम को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की जान ले ली.



गोडसे ने उन्हें बहुत करीब से गोली मारी

विडम्बना देखिए कि अहिंसा को अपना सबसे बड़ा हथियार बनाकर अंग्रेजों को देश से बाहर का रास्ता दिखाने वाले महात्मा गांधी खुद हिंसा का शिकार हुए. वह उस दिन भी रोज की तरह शाम की प्रार्थना के लिए जा रहे थे.

उसी समय गोडसे ने उन्हें बहुत करीब से गोली मारी और साबरमती का संत ‘हे राम’ कहकर दुनिया से विदा हो गया. अपने जीवनकाल में अपने विचारों और सिद्धांतों के कारण चर्चित रहे मोहन दास करमचंद गांधी का नाम उनकी मृत्यु के बाद दुनियाभर में कहीं ज्यादा इज्जत और सम्मान से लिया जाता है.

यह भी पढ़ें: Mahatma Gandhi Death Anniversary: सत्य परेशान हो सकता है. पराजित नहीं....

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 11:02 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर