Assembly Banner 2021

Assam Assembly Election: प्रधानमंत्री मोदी ने असम के उग्रवादियों से मुख्यधारा में शामिल होने की अपील की

असम के बकसा जिले के तमुलपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

असम के बकसा जिले के तमुलपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

बकसा जिले के तमुलपुर में एक चुनावी रैली (Election Rally) को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि असम (Assam) के लोग हिंसा के खिलाफ हैं और वे विकास, शांति, एकता तथा स्थिरता के साथ हैं.

  • Share this:
तमुलपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने असम (Assam) में अब तक समर्पण नहीं करने वाले उग्रवादियों से मुख्यधारा में लौटने की अपील करते हुए शनिवार को कहा कि उन्हें आत्मनिर्भर असम (Atmanirbhar Assam) बनाने की जरूरत है. बकसा जिले के तमुलपुर में एक चुनावी रैली (Election Rally) को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि असम के लोग हिंसा के खिलाफ हैं और वे विकास, शांति, एकता तथा स्थिरता के साथ हैं.

मोदी ने कहा कि राजग सरकार बिना किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के लिए योजना बनाती है. राज्य में लंबे समय तक रहे हिंसा के माहौल के लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने आरोप लगाया, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि समाज के टुकड़े करके और भेदभाव करके समाज के एक वर्ग के लिए कुछ दिया जाए तो उसे धर्मनिरपेक्षता कहा जाता है और जो सभी के लिए काम करते हैं, उन्हें सांप्रदायिक कहा जाता है.

उन्होंने कहा, राजग सरकार ने 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' के मंत्र के साथ समाज के हर वर्ग को पूरी तरह सशक्त बनाने का प्रयास किया है. धर्मनिरपेक्षता और सांप्रदायिकता के इस खेल ने देश को बहुत नुकसान पहुंचाया है. मोदी ने कहा कि केंद्र और असम में पिछले पांच साल में 'दोहरे इंजन' वाली राजग सरकारों के होने से राज्य के लिए दोहरे फायदे वाले परिणाम आए हैं.
इसे भी पढ़ें :- असम चुनाव: कांग्रेस पर हमलावर PM मोदी, कहा- बस एक वर्ग के लिए काम करने वाले धर्मनिरपेक्ष कहलाते हैं- 10 बातें



मोदी ने एआईयूडीएफ संस्थापक और सांसद बदरुद्दीन अजमल के बेटे अब्दुर रहीम द्वारा कांग्रेस की एक रैली में दिए गए बयान की ओर इशारा करते हुए भी निशाना साधा. रहीम ने शुक्रवार को एक रैली में कहा था कि ‘दाढ़ी, टोपी और लुंगी वाले’ असम में अगली सरकार बनाएंगे. प्रधानमंत्री ने कहा, इससे बड़ा असम के लिए कोई अपमान नहीं हो सकता. असम की जनता उन लोगों को बर्दाश्त नहीं करेगी जो असम के गौरव और पहचान का अपमान करते हैं और जनता उन्हें मतदान के जरिए मुंहतोड़ जवाब देगी.

इसे भी पढ़ें :- चुनावी सरगर्मी के साथ बढ़ी PM मोदी की सक्रियता, 3 दिनों में की ताबड़तोड़ 10 रैलियां

उन्होंने कहा कि असम के लोगों ने दोबारा राजग की सरकार बनाने का फैसला कर लिया है. उन्होंने कहा कि सरकार असम समझौते को पूरी तरह से लागू करने के लिए गंभीरता पूर्वक काम कर रही है, ज्यादातर समस्याओं को हल कर लिया गया है और बाकी का हल भी जल्द निकाला जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज