Assembly Banner 2021

PM मोदी को मिला एक और बड़ा सम्मान, वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशिप पुरस्कार से नवाजा गया

सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशीप पुरस्कार की शुरुआत 2016 में हुई थी.

सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशीप पुरस्कार की शुरुआत 2016 में हुई थी.

सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशीप पुरस्कार की शुरुआत 2016 में हुई थी. वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के क्षेत्र में प्रतिबद्ध नेतृत्व के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को शुक्रवार को कैम्ब्रिज एनर्जी रिसर्च एसोसिएट्स वीक (सेरावीक) (Cambridge Energy Research Associates Week) के वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कार से नवाजा गया. वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आयोजित एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने यह सम्मान स्वीकार किया और इसे देश की जनता को समर्पित किया.

इस अवसर पर अपने संक्षिप्त संबोधन में उन्होंने कहा, ‘‘मैं बहुत विनम्रता के साथ सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कार को स्वीकार करता हूं. मैं इस पुरस्कार को अपने महान देश की जनता को समर्पित करता हूं. मैं यह पुरस्कार अपनी भूमि की महान परम्परा को समर्पित करता हूं जिसने पर्यावरण को हमेशा राह दिखाई है.’’

2016 में हुई थी पुरस्कार की शुरुआत
सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण लीडरशीप पुरस्कार की शुरुआत 2016 में हुई थी. वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के क्षेत्र में प्रतिबद्ध नेतृत्व के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है.
Youtube Video




 ये भी पढ़ेंः- सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र के कुछ क्षेत्रों में फिर निकाय चुनाव कराने का दिया आदेश, राज्य सरकार करेगी उच्च स्तरीय बैठक

1983 में सेरावीक की हुई थी स्थापना 
डॉक्टर डेनिएल येरगिन ने 1983 में सेरावीक की स्थापना की थी. इसकी स्थापना के बाद से प्रत्येक साल मार्च महीने में हृयूस्टन में सेरावीक का आयोजन होता है. इसकी गिनती विश्व के अग्रणी ऊर्जा मंचों में होती है. इस साल यह आयोजन डिजिटल तरीके से एक से पांच मार्च तक हो रहा हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज