कश्मीर पर पाकिस्तान का साथ देना तुर्की को पड़ा भारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रद्द की यात्रा

कश्मीर पर पाकिस्तान का साथ देना तुर्की को पड़ा भारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रद्द की यात्रा
गवर्नर अनुसुईया उइके ने धान खरीदी के मुद्दे पर सहानुभूति पूर्वक विचार किए जाने का अनुरोध केंद्र से किया है.

UNGA में कश्मीर मुद्दे पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान (Recep Tayyip Erdoğan) ने पाकिस्तान (Pakistan) का साथ दिया था.

  • Share this:
नई दिल्ली. तुर्की (Turkey) के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान (Recep Tayyip Erdoğan) द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly UNGA) में कश्मीर मुद्दा (Kashmir Issue) उठाने और तुर्की द्वारा फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ FATF) बैठक में खुलकर पाकिस्तान का साथ देने के बाद, भारत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की प्रस्तावित तुर्की यात्रा को रद्द कर दिया है.

मोदी एक बड़े निवेश सम्मेलन में भाग लेने के लिए 27-28 अक्टूबर को सऊदी अरब (Saudi Arab) जा रहे हैं. उन्हें वहां से तुर्की जाना था लेकिन अब वह वहां नहीं जाएंगे.

तुर्की और भारत (India) के रिश्तों में कभी बहुत गर्मी नहीं रही लेकिन इस यात्रा के रद्द होने से साफ है कि दोनों देशों के रिश्तों में खटास पैदा हो गई है.



विदेश मंत्रालय ने नहीं दी कोई जानकारी
मोदी की अंकारा यात्रा पर सैद्धांतिक रूप से सहमति बनी थी और इसमें अन्य मुद्दों के अलावा व्यापार और रक्षा सहयोग पर बात होनी थी.

विदेश मंत्रालय ने इस यात्रा पर कोई जानकारी नहीं दी है. एक सूत्र ने कहा, 'यात्रा पर कोई फैसला नहीं हुआ था. इसलिए इसे रद्द किए जाने जैसी कोई बात ही नहीं है.'

यह भी पढ़ें: नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी बोले, 'लंबे समय के लिए अच्छी हैं जन-धन, आयुष्मान भारत जैसी योजनाएं'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज