अपना शहर चुनें

States

सामाजिक सद्भावना, भाईचारे के लिए मौलाना कल्बे सादिक ने उल्लेखनीय प्रयास किया: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल्बे सादिक के निधन पर शोक व्यक्त किया. (File Photo)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल्बे सादिक के निधन पर शोक व्यक्त किया. (File Photo)

Kalbe Sadiq Demise: मौलाना कल्बे सादिक दुनिया भर में अपनी उदारवादी छवि के लिए जाने जाते थे. मौलाना कल्बे सादिक ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष होने के साथ एशिया के एक बड़े इस्लामिक स्कॉलर भी थे.

  • भाषा
  • Last Updated: November 25, 2020, 11:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक (Kalbe Sadiq) के निधन पर शोक व्यक्त किया और कहा कि सामाजिक सद्भावना (Social Harmony) और भाईचारे के लिए उन्होंने उल्लेखनीय प्रयास किया. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (All Indian Muslim Personal Law Board) के उपाध्यक्ष एवं जाने-माने शिया धर्मगुरु सादिक का मंगलवार देर रात लखनऊ में निधन हो गया. वह 83 वर्ष के थे.

मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष रहे मौलाना कल्बे सादिक के निधन से अत्यंत दुख हुआ. उन्होंने सामाजिक सद्भावना और भाईचारे के लिए उल्लेखनीय प्रयास किया. उनके परिजनों और चाहने वालों के प्रति मेरी संवेदनाएं.’’ कैंसर, गंभीर निमोनिया और संक्रमण से पीड़ित मौलाना सादिक पिछले करीब डेढ़ महीने से अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें पिछले मंगलवार को तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था, लेकिन उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ.






वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने भी मौलाना सादिक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की.

ये भी पढ़ें- भारत ने पाकिस्तान के डोजियर को बताया झूठ का पुलिंदा, UN में पूछा- एबटाबाद भूल गए क्या?

मौलाना कल्बे सादिक दुनिया भर में अपनी उदारवादी छवि के लिए जाने जाते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज