कश्मीर से लेकर चंद्रयान तक PM मोदी की हर बात पर गदगद हुए फ्रांस में बसे भारतीय

प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि भारत (India) और फ्रांस (France) की मित्रता अटूट है. ये मित्रता से कहीं आगे है. ये वर्षों पुरानी है. ऐसा कोई वैश्विक मंच नहीं होगा जहां भारत और फ्रांस ने एक दूसरे का समर्थन न किया हो और साथ काम न किया हो.

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 4:10 PM IST
कश्मीर से लेकर चंद्रयान तक PM मोदी की हर बात पर गदगद हुए फ्रांस में बसे भारतीय
यूनेस्को मुख्यालय में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.
News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 4:10 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने दो दिनों के फ्रांस (France) दौरे के दौरान शुक्रवार को भारतीय समुदाय को संबोधित किया. यूनेस्को मुख्यालय (UNESCO Headquarter) में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत (India) और फ़्रांस के बीच संबंध सैकड़ों साल पुराने हैं. हमारी दोस्ती किसी स्वार्थ पर नहीं, बल्कि ‘लिबर्टी, इक्वलिटी और फ्रेटरनिटी’ के ठोस आदर्शों पर टिकी है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और फ्रांस की मित्रता अटूट है. ये मित्रता से कहीं आगे है. ये वर्षों पुरानी है. ऐसा कोई वैश्विक मंच नहीं होगा जहां भारत और फ्रांस ने एक दूसरे का समर्थन न किया हो और साथ काम न किया हो. जब भारत या फ्रांस को कोई उपलब्धि प्राप्त होती है तो हम एक-दूसरे के लिए खुश होते हैं. फ्रांस की फुटबॉल टीम के समर्थकों की संख्या शायद जितनी फ्रांस में नहीं होगी, उससे ज्यादा भारत में होगी.

उन्होंने कहा कि मैं फ्रांस की सरकार, राष्ट्रपति मैक्रों और फ्रांस की जनता का मुझे आमंत्रित करने और आप सभी से मिलने का अवसर देने के लिए आभार व्यक्त करता हूं. उन्होंने कहा, ''जब मैं 4 साल पहले फ्रांस आया था, तो हजारों की संख्या में भारतीयों से संवाद का अवसर मिला था. मुझे याद है, तब मैंने आपसे एक वादा किया था. मैंने कहा था कि भारत आशाओं और आकांक्षाओं के नए सफर पर निकलने वाला है."

जानिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की दस बड़ी बातें-

-- भारत में पिछले पांच सालों में ढेर सारे सकारात्मक बदलााव हुए हैं. भारत की युवा शक्ति, भारत के गांव, गरीब, किसान और नारी शक्ति इसके इन बदलावों के केंद्र में रहे हैं.
-- ये जनादेश सिर्फ एक सरकार चलाने के लिए नहीं, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है. ऐसा नया भारत जिसकी समृद्ध सभ्यता और संस्कृति पर पूरे विश्व को गर्व हो और जो 21वीं सदी को लीड करे.
-- पूरी दुनिया में एक तय समय में सबसे ज्यादा बैंक अकाउंट अगर किसी देश में खुले हैं तो वो भारत में खोले गए हैं. जो भारत के लिए किसी बड़े बदलाव से कम नहीं है.
Loading...

-- पूरी दुनिया की अगर आज सबसे बड़ी हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम किसी देश में चल रही है, तो वो भारत में चल रही है.
-- आज नए भारत में भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, परिवारवाद, जनता के पैसे की लूट, आतंकवाद पर जिस तरह लगाम कसी जा रही है वैसा पहले कभी नहीं हुआ.
-- नई सरकार बनते ही भारत सरकार ने जल शक्ति के लिए एक नया मंत्रालय बनाया है, जो पानी से संबंधित सारे विषयों को होलिस्टिकली देखेगा.
-- गरीब किसानों और व्यापारियों को पेंशन की सुविधा मिले, इसका भी फैसला लिया गया. ट्रिपल तलाक की अमानवीय कुरीति को खत्म कर दिया गया है.
-- हमने साम्राज्यवाद, फासीवाद और अतिवाद का मुकाबला भारत में ही नहीं बल्कि फ्रांस की धरती पर भी किया है.
-- हमारी दोस्ती ठोस आदर्शों पर बनी है. दोनों देशों के चरित्र का निर्माण ‘लिबर्टी, इक्वलिटी और फ्रेटरनिटी’ के साझा मूल्यों से हुआ है.
-- 7 सितंबर को हम सभी का चंद्रयान चांद पर उतरने वाला है. इस उपलब्धि के बाद भारत चांद पर उतरने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा.

यह भी पढ़ें- 

Opinion: दुनिया ने माना भारत की विदेश नीति का लोहा
हिंदुओं से कश्मीर पर समर्थन की ताक में इमरान, करेंगे जनसभा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 3:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...