लाइव टीवी

निर्भया के दोषियों की फांसी पर प्रधानमंत्री मोदी बोले- न्याय की जीत हुई

News18Hindi
Updated: March 20, 2020, 12:13 PM IST
निर्भया के दोषियों की फांसी पर प्रधानमंत्री मोदी बोले- न्याय की जीत हुई
पीएम मोदी

पूरे देश की आत्मा को झकझोर देने वाले निर्भया मामले के चार दोषियों मुकेश सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) को शुक्रवार सुबह साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2020, 12:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने शुक्रवार को निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले  में चार दोषियों की फांसी पर ट्वीट किया. प्रधानमंत्री ने कहा कि न्याय की जीत हुई है. पीएम ने निर्भया मामले के दोषियों को फांसी दिए जाने पर कहा, 'न्याय की जीत हुई.' प्रधानमंत्री ने कहा, 'महिलाओं की गरिमा और सुरक्षा सुनिश्चित करना सबसे अधिक महत्वपूर्ण है.' प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में कहा, 'हमारी नारी शक्ति हर क्षेत्र में आगे बढ़ी है और हमें ऐसे राष्ट्र का निर्माण करना है जहां ध्यान महिला सशक्तीकरण, समानता और अवसर प्रदान करने पर हो.'

वहीं केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने निर्भया सामूहिक बलात्कार मामले के चारों दोषियों को फांसी दिए जाने पर कहा कि इससे अपराधियों को सख्त संदेश जाएगा कि वे कानून से भाग नहीं सकते. ईरानी ने संसद भवन परिसर में कहा, 'मैंने इतने सालों में निर्भया की मां का संघर्ष देखा है. हालांकि न्याय पाने में समय लगा लेकिन आखिरकार न्याय हुआ. यह लोगों को भी संदेश है कि आप कानून से भाग सकते हैं लेकिन आप हमेशा के लिए इससे बच नहीं सकते. मुझे खुशी है कि न्याय हुआ.'

ईरानी ने कहा, 'मैं आज के दिन का दिल की गहराइयों से स्वागत करती हूं कि आखिरकार निर्भया को न्याय मिला. दोषियों को फांसी हर अपराधी को यह संदेश है कि एक न एक दिन कानून आपको पकड़ लेगा.'



न्याय प्रणाली को लेकर संदेह दूर हो गया : एनसीडब्ल्यू प्रमुख
वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि आखिरकार न्याय मिलने के बाद निर्भया की आत्मा को शांति मिली होगी और उम्मीद है कि सामूहिक दुष्कर्म तथा हत्या के इस बर्बर मामले के चारों दोषियों की फांसी दूसरों को ऐसा अपराध करने से रोकने का काम करेगी.

रेखा शर्मा ने कहा कि इस मामले ने कानून प्रणाली में कमियों को उजागर किया जिसका चारों दोषियों ने फायदा उठाया. एनसीडब्ल्यू की प्रमुख रेखा शर्मा ने ट्वीट किया, 'उम्मीद है कि न्याय मिलने के बाद निर्भया की आत्मा को आखिरकार शांति मिली होगी. लंबी कानूनी लड़ाई के बाद उसके माता-पिता ने अपनी बेटी के लिए न्याय की लड़ाई जीत ली. चारों लोगों को एक युवा मेडिकल छात्रा पर बर्बर अपराध के लिए अंतत: दोषी ठहराया गया और आज सुबह फांसी दी गई.'

यह भी पढ़ें:- Nirbhaya case: फांसी के बाद उलझा चारों गुनहगारों के अंतिम संस्कार का मुद्दा, परिवार ने नहीं किया शवों पर दावा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 11:46 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading