महिंदा राजपक्षे की बड़ी जीत दोनों देशों के रिश्तों को और गहरा करेगी : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के बीच डिजिटल शिखर वार्ता हुई. (फाइल फोटो)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के बीच डिजिटल शिखर वार्ता हुई. (फाइल फोटो)

डिजिटल द्विपक्षीय शिखर-वार्ता में अपने प्रारंभिक वक्तव्य में मोदी ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि श्रीलंका में राजपक्षे सरकार की नीतियों के आधार पर चुनाव में सत्तारूढ़ पार्टी की बड़ी जीत दोनों देशों के बीच सहयोग को और गहरा बनाएगी.

  • भाषा
  • Last Updated: September 26, 2020, 2:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के साथ कई विषयों पर बातचीत की, जिनमें द्विपक्षीय संबंध तथा महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने जैसे विषय शामिल रहे. डिजिटल द्विपक्षीय शिखर-वार्ता में अपने प्रारंभिक वक्तव्य में मोदी ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि श्रीलंका में राजपक्षे सरकार की नीतियों के आधार पर चुनाव में सत्तारूढ़ पार्टी की बड़ी जीत दोनों देशों के बीच सहयोग को और गहरा बनाएगी.

उन्होंने कहा, चुनाव में आपकी पार्टी की विजय के बाद भारत-श्रीलंका के संबंधों में एक नए अध्याय की शुरुआत का अवसर आया है. दोनों देशों के लोग नई उम्मीद और अपेक्षाओं के साथ हमें देख रहे हैं. राजपक्षे ने नौ अगस्त को नए कार्यकाल के लिए श्रीलंकाई प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी. उनकी पार्टी ‘श्रीलंका पीपुल्स फ्रंट’ ने संसदीय चुनावों में दो तिहाई बहुमत हासिल किया. मोदी ने कहा कि भारत श्रीलंका के साथ अपने संबंधों को प्राथमिकता देता है.

इसे भी पढ़ें :- श्रीलंका में जल्द लग सकता है गोहत्या पर प्रतिबंध, PM राजपक्षे की पार्टी ने प्रस्ताव को दी मंजूरी



श्रीलंका के पीएम महिंदा राजपक्षे ने इस मौके पर भारत की तारीफ करते हुए कहा, COVID19 महामारी के दौरान भारत ने अन्य देशों के साथ मिलकर जैसे काम किया, मैं इसके लिए आभार व्यक्त करता हूं. उन्होंने कहा कि एमटी न्यू डायमंड जहाज पर आग को बुझाने के ऑपरेशन ने दोनों देशों के बीच अधिक सहयोग का अवसर प्रदान किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज