लाइव टीवी

राज्यसभा से पास हुआ नागरिक संशोधन बिल, पीएम मोदी ने कहा- आज का दिन ऐतिहासिक

News18Hindi
Updated: December 11, 2019, 10:33 PM IST
राज्यसभा से पास हुआ नागरिक संशोधन बिल, पीएम मोदी ने कहा- आज का दिन ऐतिहासिक
नागरिकता संशोधन बिल पास होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर आज के दिन को ऐतिहासिक करार दिया है.

राज्यसभा (Rajya Sabha) ने बुधवार को विस्तृत चर्चा के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill)को पारित कर दिया. इस बिल के पास होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर आज के दिन को ऐतिहासिक बताया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2019, 10:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संसद (Parliament) ने बुधवार को नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) को मंजूरी दे दी जिसमें अफगानिस्तान (Afghanistan), बांग्लादेश (Bangladesh) और पाकिस्तान (Pakistan) से धार्मिक प्रताड़ना के कारण भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता प्रदान करने का प्रावधान है.

राज्यसभा (Rajya Sabha) ने बुधवार को विस्तृत चर्चा के बाद इस विधेयक को पारित कर दिया. सदन ने विधेयक को प्रवर समिति में भेजे जाने के विपक्ष के प्रस्ताव और संशोधनों को खारिज कर दिया. विधेयक के पक्ष में 125 मत पड़े जबकि 105 सदस्यों ने इसके खिलाफ मतदान किया.

इस बिल के पास होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर आज के दिन को ऐतिहासिक बताया. प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया कि- 'आज का दिन भारत और उसकी करुणा और भाईचारे के लिए एक ऐतिहासिक दिन है! खुशी है कि #RajyaSabha में # CAB2019 पास किया गया. सभी सांसदों का आभार जिन्होंने विधेयक के पक्ष में मतदान किया. यह विधेयक ऐसे कई लोगों की पीड़ा को दूर करेगा जिन्होंने वर्षों तक उत्पीड़न का सामना किया है.'



वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लिखा कि- 'संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के पारित होते ही करोड़ों वंचितों और पीड़ितों के सपने आज साकार हो गए हैं. इससे प्रभावित लोगों के लिए गरिमा और सुरक्षा सुनिश्चित करने के संकल्प के लिए पीएम नरेंद्र मोदी जी का आभारी हूं. मैं सभी को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं.'



वहीं टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि 'ये सरकार सिर्फ बड़े-बड़े वादे करती है लेकिन उसके सारे वादे फेल हो जाते हैं. ममता दी ने साफ कर दिया है कि पश्चिम बंगाल में एनआरसी और नागरिकता संशोधन बिल लागू नहीं किया जाएगा.'



वहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस बिल को असंवैधानिक बताते हुए आज के दिन को संवैधानिक इतिहास का ‘काला दिन’ करार दिया है.



वहीं पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के अकाउंट से यह ट्वीट किया गया है.



आरजेडी सांसद मनोज झा (RJD MP Manoj Jha) ने कहा बीजेपी के पास ऐसी भभूत है कि जिसको लग जाती है वो चरण वंदना करने लगता है. आज बापू के देश का हौसला हारा है, देश की आत्मा हार गई. जर्मनी में भी बहुमत से 10 साल चला लेकिन 14 साल बाद क्या हुआ? थोड़ा बड़ा सोचने की जरूरत है, संख्याबल ही आखिरी सच्चाई नहीं होती.

सिब्बल ने बिल को बताया असंवैधानिक
कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा हम कोर्ट में जाएंगे तो आपको पता चल जाएगा लेकिन अमित शाह के यह कह देने से कि बिल संवैधानिक है, यह संवैधानिक नहीं हो जाता. उन्होंने पहले भी कई बिल को संवैधानिक कहा लेकिन कोर्ट ने उसको रद्द कर दिया. सिब्बल ने कहा अब आप शिवसेना से पूछिए कि वह क्यों पक्ष में नहीं आये हम इसका जवाब दें. कपिल सिब्बल ने कहा कि अमित शाह और रविशंकर प्रसाद कितनी भी कोशिश करें इस बिल को संवैधानिक बताने की लेकिन हम मानते हैं कि बिल असंवैधानिक है.

'अपने राज्यों में क्या जवाब देंगी BJD और AIADMK'
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा गृह मंत्री के दबाव में और आप जानते हैं किस तरह का दबाव होता है इनका बीजेडी और जेडीयू जैसी पार्टियों ने सरकार का समर्थन कर दिया जिसकी वजह से यह बिल पास हो गया. बीजेडी और एआईएडीएमके जैसी पार्टियों ने संविधान की धज्जियां उड़ते हुए देखीं तब उनको अपने राज्यों में जवाब देना होगा कि उन्होंने ऐसा क्यों किया. हमारा फ्लोर मैनेजमेंट विफल नहीं हुआ क्योंकि हमारी जितनी संख्या थी उतने वोट आए.

ये भी पढ़ें-
नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में पास, सोनिया गांधी ने इतिहास का काला दिन बताया

अमित शाह ने कहा- कांग्रेस और PAK नेताओं के बयान एक जैसे, पढ़ें 10 बड़ी बातें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 10:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर