226 करोड़ की लागत से बन रहा है अनोखा म्यूजियम, अगले साल शुरू होगी पब्लिक एंट्री

म्यूजियम में देश के अब तक के प्रधानमंत्रियों के निजी और राजनीतिक जीवन के बारे में जानकारी ली जा सकेगी.

रवि सिंह | News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 3:50 PM IST
226 करोड़ की लागत से बन रहा है अनोखा म्यूजियम, अगले साल शुरू होगी पब्लिक एंट्री
म्यूजियम की नींव पिछले साल ही रखी गयी थी.
रवि सिंह
रवि सिंह | News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 3:50 PM IST
देश के पहले पहले प्रधानमंत्री पंडित जवारलाल नेहरु जिस भवन में आखिरी वक्त तक रहे वहां अब आलीशान म्यूजियम बनाया जा रहा है. दिल्ली के तीन मूर्ति भवन में ये म्यूजियम अगले साल अक्टूबर तक बनकर तैयार हो जायेगा. इसके बाद इसे पब्लिक के लिए खोल दिया जायेगा. म्यूजियम का निर्माण 10 हजार वर्ग मीटर के क्षेत्रफल में हो रहा है, जिस पर 226 करोड़ का बजट रखा गया है.

अब तक इन प्रधानमंत्रियों से जुड़ी चीजें...
प्रधानमंत्रियों से जुड़ी यादों जैसे फोटो या फिर दूसरी चीजों को इकट्ठा भी करने का काम किया जा रहा है, जिसके लिए प्रधानमंत्रियों के परिवारों से संपर्क किया जा रहा है. अब तक पूर्व प्रधानमंत्री आई के गुजराल, चंद्रशेखर, चौधरी चरण सिंह, मोरारजी देसाई, लाल बहादुर शास्त्री, वी पी सिंह, मननोहन सिंह और नरसिम्हा राव के परिवारों से संपर्क किया गया है और कुछ फोटो वहां से मिले हैं.

एक छत के नीचे अब तक के  प्रधानमंत्रियों का इतिहास

म्यूजियम में देश के अब तक के प्रधानमंत्री के निजी और राजनीतिक जीवन के बारे में जानकारी ली जा सकेगी. नेहरु मेमोरियल म्यूजियम एंड लाइब्रेरी के डायरेक्टर शक्ति सिन्‍हा ने बताया कि संग्रहालय की खास बात ये है कि इसे विश्व स्तर का बनाया जा रहा है जहां स्वतंत्र भारत के अब तक के रहे प्रधानमंत्री के भारतीय राजनीति में स्थान और योगदान को दर्शाया जायेगा. हर प्रधानमंत्री के निजी औऱ राजनीतिक जीवन पर छोटी छोटी डाक्यूमेंट्री भी बनेगी जिसे यहां पर देखा जा सकेगा.

प्रधानमंत्रियों से जुड़ी यादों जैसे फोटो या फिर दूसरी चीजों को इकट्ठा भी करने का काम किया जा रहा है.


कांग्रेस का रहा ऐतराज, पीएम मोदी ने दी दखल
Loading...

वैसे म्यूजियम की नींव पिछले साल ही रखी गयी थी, जिसके बाद कांग्रेस ने तीन मूर्ति भवन में सभी प्रधानमंत्रियों के लिए संग्रहालय का विरोध किया था. कांग्रेस की दलील थी कि तीन मूर्ति भवन में पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु की यादें जुड़ी हैं उस धरोहर के साथ छेड़छाड़ न की जाय, लेकिन केंद्र सरकार ने उस वक्त कांग्रेस के सभी आरोपों को खारिज कर दिया था. हाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्रियों के परिजनों, मित्रों और सगे संबंधियों से उनसे जुड़ी चीजों को साझा करने की अपील की थी.

ये भी पढ़ें-AmarnathYatra2019: अमरनाथ यात्रा समय से पहले खत्म, सामने आया 'खौफनाक' सच

 BJP नेता का दावा, आर्टिकल 35A भारतीय संविधान और कश्मीर की जनता के साथ है सबसे बड़ा धोखा
First published: August 4, 2019, 3:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...