लाइव टीवी

देश की जेलों में क्षमता से अधिक कैदी, इस राज्य में सबसे खराब स्थिति

भाषा
Updated: November 6, 2019, 12:56 AM IST
देश की जेलों में क्षमता से अधिक कैदी, इस राज्य में सबसे खराब स्थिति
NCRB के अनुसार उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कुल 70 जेल हैं, जिनमें 58400 कैदी रह सकते हैं . लेकिन 2017 के अंत में यहां 96,383 कैदी थे.

NCRB के अनुसार उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कुल 70 जेल हैं, जिनमें 58400 कैदी रह सकते हैं . लेकिन 2017 के अंत में यहां 96,383 कैदी थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश भर की जेलों में क्षमता से अधिक कैदियों के मौजूद होने की समस्या बनी हुई है. देश में जेलों पर राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी NCRB) के नए आंकड़ों से इसका खुलासा हुआ है. वर्ष 2015-2017 के दौरान भी जेल में क्षमता से अधिक कैदी थे. इस अवधि में कैदियों की संख्या में 7.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ. जबकि, समान अवधि में जेल की क्षमता में 6.8 प्रतिशत वृद्धि हुई .

हाल में NCRB की जारी रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. इस रिपोर्ट में 2015 से 2017 के आंकड़ों को शामिल किया गया है . रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2017 के अंत में देश भर की 1,361 जेलों में 4.50 लाख कैदी थे. इस तरह, सभी जेलों की कुल क्षमता से करीब 60,000 अधिक कैदी थे .

इसमें कहा गया कि जेलों में कैदियों के रहने की क्षमता 2015 में 3.66 लाख से बढ़कर 2016 में 3.80 लाख और 2017 में 3,91,574 होने के बावजूद कैदियों की संख्या पार कर गई. इस अवधि में जेलों की क्षमता में 6.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई. जेल की क्षमता में बढोतरी के बावजूद कैदियों की संख्या 2015 में 4.19 लाख से 2016 में 4.33 लाख और 2017 में 4.50 लाख हो गयी. इस तरह 2015-17 में 7.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई .

 2017 के अंत तक विभिन्न जेलों में 4.50 लाख कैदी थे

जेल में कैदियों के रहने की क्षमता की तुलना में कैदियों की संख्या बढ़ने के कारण जेल में रिहाईश दर 2015 में 114.4 प्रतिशत से बढ़कर 2017 में 115.1 हो गयी . एनसीआरबी के मुताबिक, 2017 के अंत तक विभिन्न जेलों में 4.50 लाख कैदी थे इनमें 431823 पुरूष और 18873 महिलाएं थीं.

रिपोर्ट के मुताबिक, जेल में सबसे ज्यादा भीड़-भाड़ उत्तरप्रदेश में है जबकि सभी राज्यों की तुलना में यहां सबसे ज्यादा जेल की क्षमता है. उत्तरप्रदेश की जेलों में सबसे ज्यादा कैदी भी हैं .

यह भी पढ़ें: हत्या के मामलों में UP-बिहार नंबर 1, झगड़ा बना सबसे बड़ी वजह- NCRB रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 12:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...