केरल में पेट्रोल पंपों पर काम करेंगे कैदी, रोज मिलेगा 220 रुपये वेतन

केरल में पेट्रोल पंपों पर काम करेंगे कैदी, रोज मिलेगा 220 रुपये वेतन
केरल में तीन पेट्रोल पंप पर काम करेंगे कैदी (फाइल फोटो)

ये पेट्रोल पंप (Petrol Pump) जेल की जमीन पर बने हैं जिसे आईओसी ने 30 साल के पट्टे पर लिया है. यहां काम करने के लिए कैदियों (Prisoners) को उनके अच्छे व्यवहार के लिए चुना गया और उन्हें प्रशिक्षण भी दिया गया.

  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) में जेल कैदियों (Prisoners) के लिए एक नई पहल की शुरुआत की गई है. इसके तहत राज्य में जेल की जमीन पर बने तीन पेट्रोल पंपों (Petrol Pump) पर कैदी काम कर सकेंगे. इस योजना की शुरुआत भारतीय तेल निगम (IOC) और जेल विभाग ने तिरुवनंतपुरम, व्ययूर के केंद्रीय कारागरों और चेन्नई मुक्त कारागार में शुरू की है. इसका उद्घाटन केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गुरुवार को किया. इस तरह के एक पंप कन्नूर केंद्रीय कारागार में खुलेगा.

इन पंपों (Pump) पर सीएनजी ईंधन भी उपलब्ध होगा और बिजली वाले वाहनों को चार्ज भी किया जा सकेगा. ये पेट्रोल पंप जेल की जमीन पर बने हैं जिसे आईओसी ने 30 साल के पट्टे पर लिया है. यहां काम करने के लिए कैदियों को उनके अच्छे व्यवहार के लिए चुना गया और उन्हें प्रशिक्षण भी दिया गया. अधिकारियों ने बताया कि इस काम के लिए सरकार की ओर से उन्हें प्रतिदिन मजदूरी के हिसाब से 220 रुपये वेतन भी दिया जाएगा.

राज्य में कैदियों द्वारा कम खर्चे में बिरियानी, चपाती और चिकन करी जैसे अन्य खाद्य पदार्थ बनाने में मिली सफलता के बाद बंदियों को एक नए क्षेत्र में अवसर दिया जा रहा है.



सरकारी राजस्व में 5.9 लाख रुपये का इजाफा
राज्य सरकार ने वर्तमान में 3 जगह स्थापित पेट्रोल पंप के अलावा इसे कन्नूर जेल में भी इस योजना को शुरू करने का प्लान बनाया है. इन जेलों से सरकार को हर महीने 5.9 लाख रुपये किराया मिलेगा. केरल सरकर की भविष्य में CNG और विद्युत चार्जिंग स्टेशन स्थापित करके परियोजना का विस्तार करने की भी योजना है. पेट्रोल पंप पर सार्वजनिक सुविधा केंद्र ( Public Outlet ) भी रहेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading