लाइव टीवी
Elec-widget

प्रियंका गांधी ने शेयर की पिता की खींची हुई हरिवंशराय बच्चन की फोटो, जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी

News18Hindi
Updated: November 27, 2019, 10:41 PM IST
प्रियंका गांधी ने शेयर की पिता की खींची हुई हरिवंशराय बच्चन की फोटो, जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी
प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक खास तस्वीर साझा की है

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanaka Gandhi Vadra) ने हिंदी भाषा के श्रेष्ठतम कवि हरिवंश राय बच्चन की जन्मतिथि पर उनकी एक खास तस्वीर शेयर की है. ये तस्वीर उनके पिता राजीव गांधी ने खींची थी. कभी बहुत खास हुआ करते थे बच्चन और गांधी परिवार के संबंध. जानिए कैसे पड़ी रिश्तों में खटास

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 10:41 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस की महासचिव और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanaka Gandhi Vadra) ने हिंदी भाषा के श्रेष्ठतम कवि हरिवंश राय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) की जन्मतिथि पर उनको याद कर एक ट्वीट किया है. प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा कि- 'हरिवंशराय बच्चन जी जिन्हें हम अंकल बच्चन के नाम से जानते थे, इलाहाबाद के एक महान पुत्र थे। एक वक्त था जब मेरे पिता की मृत्यु के बाद बच्चन जी की रचनाओं को मैं देर-देर तक पढ़ती थी। उनके शब्दों से मेरे मन को शांति मिलती थी, इसके लिए मैं उनके प्रति आजीवन आभारी रहूँगी। प्रियंका के अपने इस ट्वीट के साथ हरिवंशराय बच्चन की एक तस्वीर ट्वीट की है. इसके साथ उन्होंने लिखा है कि मेरे पिता जी द्वारा खींची गयी बच्चन जी की फोटो'

priyanka gandhi
प्रियंका गांधी ने किया ये ट्वीट


दोनों परिवारों में थे घनिष्ठ संबंध
आपको बता दें गांधी परिवार के बच्चन परिवार के साथ बहुत ही करीबी संबंध थे. दोनों परिवारों की ये दोस्ती पहले जवाहर लाल नेहरू (Jawahar Lal Nehru) और हरिवंशराय बच्चन के दौर में रही बाद में यह राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) और अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने लंबे दौर तक ये दोस्ती निभाई. हरिवंशराय बच्चन जवाहर लाल नेहरू के प्रधानमंत्री काल में विदेश मंत्रालय में हिंदी अधिकारी थे. धीरे-धीरे दफ्तर की ये दोस्ती परिवारों के बीच पहुंची और नेहरू की बेटी इंदिरा गांधी और हरिवंशराय बच्चन की पत्नी तेजी बच्चन के बीच दोस्ती हो गई. राजीव और अमिताभ ने बचपन से ही दोनों परिवारों के बीच घनिष्ठ संबंध देखे. वो राजीव गांधी ही थे जिनके कहने पर अमिताभ बच्चन राजनीति के मैदान में उतरे थे.

हरिवंश राय और तेजी बच्चन ने किया था सोनिया का कन्यादान
जब राजीव गांधी इंग्लैंड में पढ़ने के लिए गए तो वह वहां से अमिताभ को चिट्ठियां लिखा करते थे. राजीव गांधी की होने वाली पत्नी सोनिया गांधी जब 1968 में पहली बार भारत आईं तो अमिताभ उन्हें एयरपोर्ट पर रिसीव करने के लिए गए थे. तेजी बच्चन ने सोनिया को भारत के रीति-रिवाज और संस्कृतियों के बारे में बताया. यही नहीं हरिवंश राय बच्चन और तेजी बच्चन ने ही सोनिया गांधी का कन्यादान किया था.

ऐसे पड़ी रिश्तों में खटास
Loading...

80 के दशक तक दोनों परिवारों के बीच दोस्ती रही. तब राजीव गांधी ने अमिताभ की दिन पर दिन बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए उन्हें राजनीति में उतरने की सलाह दी. 1984 में अमिताभ बच्चन कांग्रेस के टिकट पर इलाहाबाद से चुनाव लड़े. अमिताभ ने इन चुनावों में जीत हासिल की. लेकिन राजीव और अमिताभ की दोस्ती में इस जीत के बाद से दरार पड़ गई. इसके बाद बोफोर्स घोटाले के मामले ने तहलका मचा दिया जिसमें अमिताभ बच्चन और उनके भाई अजिताभ बच्चन भी निशाना बने. इसके बाद से दोनों परिवारों के बीच जो दूरी बनी वह कभी कम नहीं हो सकी. अमिताभ बच्चन ने तीन साल बाद पद से इस्तीफा देकर राजनीति से किनारा कर लिया.

ये भी पढ़ें-
CM पद का लालच देकर समर्थन लेना खरीद फरोख्‍त नहीं है क्‍या: अमित शाह

पृथ्वीराज चव्हाण का विधानसभा स्पीकर बनना तय, अजित पवार बन सकते हैं डिप्टी CM

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 7:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com