Assembly Banner 2021

चीन में पैदा हुआ था कोरोना? 15 मार्च के बाद किसी भी दिन आ सकती है WHO की रिपोर्ट

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अध्यक्ष टेडरॉस अधनॉम (फाइल फोटो)

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अध्यक्ष टेडरॉस अधनॉम (फाइल फोटो)

WHO चीफ टेडरॉस अधनॉम (Tedros Adhanom) ने कहा है कि 15 मार्च के सप्ताह में ये रिपोर्ट किसी भी दिन सार्वजनिक की जा सकती है. टेडरॉस ने कहा है कि मुझे मालूम है संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देश इस रिपोर्ट का बेसब्री के साथ इंतजार कर रहे हैं. टीम रिपोर्ट को अंतिम रूप दे रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 5, 2021, 10:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया में कोविड-19 (Covid-19) फैलने के बाद से ये सवाल उठता रहा है कि आखिर महामारी (Pandemic) कहां से फैली है. इसे लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के एक्सपर्ट्स की टीम ने चीन में जांच की है. अब WHO चीफ टेडरॉस अधनॉम ने कहा है कि 15 मार्च के सप्ताह में ये रिपोर्ट किसी भी दिन सार्वजनिक की जा सकती है.

शुरुआत में इस रिपोर्ट को दो हिस्सों में सार्वजनिक किया जाना था. फरवरी महीने में छोटे स्वरूप में और फिर बाद में व्यापक रूप में. हालांकि अब दोनों ही रिपोर्ट को एक साथ पब्लिश किया जाएगा. टेडरॉस ने कहा है कि मुझे मालूम है संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देश इस रिपोर्ट का बेसब्री के साथ इंतजार कर रहे हैं. टीम रिपोर्ट को अंतिम रूप दे रही है.

'वुहान में कोरोना का आउटब्रेक उससे कहीं ज्यादा बड़ा था, जितना दुनिया को दिखाया गया'
गौरतलब है कि कई देशों ने कोरोना की वैक्सीन बना ली है, लेकिन इसकी उत्पत्ति कहां से हुई? इस पर संदेह बरकरार है. पिछले दिनों विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक टीम ने कोरोना के वुहान लैब से लीक होने के दावे को भी खारिज कर दिया था, लेकिन डब्ल्यूएचओ को शुरुआती डेटा नहीं दिए जाने के बाद चीन पर सवाल खड़े होने लगे थे. एक्सपर्ट टीम के एक सदस्य ने ये भी दावा किया था कि ऐसे संकेत मिले कि वुहान में कोरोना का आउटब्रेक उससे कहीं ज्यादा बड़ा था, जितना दुनिया को दिखाया गया.
क्या बोले थे एक्सपर्ट टीम के पीटर बेन एम्ब्रेक


सीएनएन से बात करते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन मिशन के प्रमुख जांचकर्ता पीटर बेन एम्ब्रेक ने बताया था कि 2019 में ही कोरोना वायरस के प्रसार के संकेत मिले थे. उन्होंने बताया कि वुहान दौरे के दौरान डब्ल्यूएचओ की टीम को कोरोना संक्रमित पहले मरीज से बातचीत का मौका मिला था, जिसकी उम्र 40 के आसपास थी और उसकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं थी. वह 8 दिसंबर को कोरोना वायरस से संक्रमित मिला था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज