लाइव टीवी
Elec-widget

पुडुचेरी के CM नारायणसामी ने उपराज्यपाल किरण बेदी को बताया 'हिटलर की बहन'

News18Hindi
Updated: November 20, 2019, 9:20 AM IST
पुडुचेरी के CM नारायणसामी ने उपराज्यपाल किरण बेदी को बताया 'हिटलर की बहन'
पुडुचेरी के CM नारायणसामी ने उपराज्यपाल किरण बेदी को कहा- हिटलर की बहन

किरण बेदी (Kiran Bedi) के पुडुचेरी (Puducherry) का उपराज्यपाल (Lieutenant Governor) बनने के बाद से ही उनके कामकाज के तरीकों पर सवाल उठाने वाले वी नारायणसामी (V Narayanasamy) ने आरोप लगाया कि वह चुनी हुई सरकार के फैसलों को ठुकराकर सरकार के नियमित कामकाज में बेवजह दखल दे रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2019, 9:20 AM IST
  • Share this:
पुडुचेरी. पुडुचेरी (Puducherry) के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (V Narayanasamy) ने उपराज्यपाल किरण बेदी (Kiran Bedi) के कामकाज के तरीके की आलोचना करते हुए कहा कि वह जर्मन (Germany) तानाशाह एडोल्फ हिटलर (Adolf Hitler) की बहन लगती हैं. उन्होंने कहा कि जब कभी भी वह मंत्रिमंडल के फैसलों को नकारती हैं तो उनका खून खौल जाता है.

किरण बेदी के पुडुचेरी का उपराज्यपाल बनने के बाद से ही उनके कामकाज के तरीकों पर सवाल उठाने वाले नारायणसामी ने आरोप लगाया कि वह चुनी हुई सरकार के फैसलों को ठुकराकर सरकार के नियमित कामकाज में बेवजह दखल दे रही हैं. नारायणसामी ने पार्टी कार्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती के मौके पर सत्तारूढ़ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से कहा, वह एक तानाशाह की तरह काम कर रही हैं और जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर की बहन लगती हैं.

पूर्व आईपीएस अधिकारी बेदी पर तीखा हमला बोलते हुए नारायणसामी ने कहा कि वह मंत्रिमंडल के हर फैसले में बाधा बनकर खड़ी हो जाती हैं. मुख्यमंत्री ने कहा, जब भी मुझे बेदी की ओर से हमारे फैसलों को नामंजूर करने से जुड़ी फाइलें मिलती हैं तो मेरा खून खौल उठता है और मैं झुंझला जाता हूं. उन्होंने कहा कि देश में किसी भी राज्य का राज्यपाल या केन्द्र शासित प्रदेश का उपराज्यपाल अपने राज्य या केन्द्रशासित प्रदेश के नियमित कामकाज में दखल नहीं दे रहा.नारायणसामी ने हाल ही में अपनी सिंगापुर यात्रा को लेकर छिड़ी जुबानी जंग का जिक्र करते हुए कहा कि वह केन्द्र सरकार की मंजूरी के बाद ही उद्योग मंत्री शाह जहां और द्रमुक विधायक शिवा के साथ सिंगापुर गए थे और उन्होंने खुद ही यात्रा का खर्च उठाया था.

इसे भी पढ़ें :- किरण बेदी को झटका, मद्रास हाईकोर्ट ने कहा, 'LG के पास रोजमर्रा के कामकाज में दखल की शक्ति नहीं'

मुख्यमंत्री ने कहा, लेकिन उपराज्यपाल ने हमारी यात्रा पर सवाल उठाए. हमें अपनी यात्रा के लिए बेदी की मंजूरी की आवश्यकता नहीं है क्योंकि हम उनके नौकर या गुलाम नहीं हैं. गौरतलब है कि बेदी ने कहा था कि उन्हें मीडिया के जरिए इस यात्रा के बारे में पता चला. उन्होंने सवाल उठाया कि इस यात्रा के लिए जरूरी मंजूरी ली गई थी या नहीं.

इसे भी पढ़ें :- दिल्ली पुलिस के समर्थन में उतरीं किरण बेदी, कमिश्नर अमूल्य पटनायक को दी ये सीख

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 8:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...