अपना शहर चुनें

States

मुश्किल में पुदुचेरी सरकार, कांग्रेस के बिना अकेले चुनाव लड़ सकती है डीएमके

पुदुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी. (फाइल फोटो)
पुदुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी. (फाइल फोटो)

डीएमके नेता के बयान के बाद पुदुचेरी पर शासन करने वाली गठबंधन सरकार संभव है कि गिर जाए. डीएमके के सभी 30 सीटों पर चुनाव लड़ने के एलान के पहले वरिष्‍ठ डीएमके नेता एस जगतरक्षगण (DMK leader S Jagathrakshagan) ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 11:56 PM IST
  • Share this:
पुदुचेरी. डीएमके नेता जगतरक्षगण (DMK leader S Jagathrakshagan) ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी, आने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के बिना सभी 30 सीटों पर लड़ेगी. अभी इस केंद्र शासित प्रदेश में कांग्रेस-द्रमुक गठबंधन की सरकार है. उनके इस बयान से सरकार की मुश्किलें बढ़ गईं हैं.

जगतरक्षगण ने सबको चौंकाया
पुदुचेरी के पास पार्टी की बैठक करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए जगतरक्षगण ने यह कह कर चौंका दिया कि डीएमके केंद्र शासित प्रदेश की सभी 30 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और जीतेगी, यदि हम (चुनाव जीतने में) असफल रहे तो मैं इसी स्‍टेज पर आत्‍महत्‍या कर लूंगा. डीएमके नेता के इस बयान के बाद पुदुचेरी पर शासन करने वाली गठबंधन सरकार, संभव है कि गिर जाए. डीएमके के सभी 30 सीटों पर चुनाव लड़ने के एलान के पहले वरिष्‍ठ डीएमके नेता एस जगतरक्षगण ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक की थी.

कांग्रेस-डीएमके गठबंधन में हुए विवाद
जगतरक्षगण को पुदुचेरी में डीएमके के शक्ति केंद्र के रूप में देखा जा रहा है. वे इसलिए भी सक्रिय हैं क्‍योंकि उनके व्‍यापारिक हित इसी प्रदेश में हैं. वहीं यह भी देखा गया है कि कांग्रेस-डीएमके गठबंधन वाली सरकार में पिछले तीन महीनों में कुछ मामूली से विवाद भी हुए थे.



सीएम उम्मीदवार घोषित किए जा सकते हैं जगतरक्षगण
ऐसा माना जा रहा है कि जगतरक्षगण को पार्टी अपना मुख्‍यमंत्री पद का उम्‍मीदवार भी घोषित कर सकती है. पार्टी के एक वरिष्‍ठ नेता ने चेन्‍नई में कहा कि जगतरक्षगण अपने मुख्‍यमंत्री पद के दावे को लेकर सक्रिय रहे हैं लेकिन डीएमके चीफ एमके स्‍टालिन और पुदुचेरी कांग्रेस मुख्‍यमंत्री वी नारायणसामी के बीच अच्‍छे संबंध हैं. नारायण सामी ने समस्‍या के हल की खातिर स्‍टालिन के जरिए बातचीत करने की उम्‍मीद भी जाहिर की थी. लेकिन जगतरक्षगण आगे नहीं बढ़े. अभी पुदुचेरी में डीएमके की मात्र तीन सीटें हैं.

उन्‍होंने कहा कि पार्टी को बताया गया है कि पांच या छह से अधिक विजेता उम्‍मीदवार डीएमके को ज्‍वाइन करने वाले हैं, ताकि सत्‍ता हासिल की जा सके. हम प्रतीक्षा करेंगे और देखेंगे. डीएमके नेता ने कहा कि पार्टी नेतृत्‍व का मानना है कि कांग्रेस के नेतृत्‍व वाली नारायणसामी सरकार की वापसी की संभावना नहीं है, इसलिए संभव है कि डीएमके जगतरक्षगण की योजना के साथ आगे बढ़े और अकेले चुनाव लड़े.
गौरतलब है कि पुदुचेरी विधानसभा की 30 सीटों में से, डीएमके के पास तीन सीटें हैं. वहीं कांग्रेस के पास 14, विपक्ष की ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस के पास 7 और एआईएडीएमके के पास चार सीटें हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज