पुडुचेरी में 22 फरवरी को होगा कांग्रेस सरकार का फ्लोर टेस्ट, LG ने जारी किया आदेश

पुडुचेरी में कांग्रेस की सरकार को 22 फरवरी फ्लोर टेस्ट कराना होगा. उपराज्यपाल ने इस संबंध में आदेश जारी किया है.

Puducherry government crisis: 16 फरवरी को कांग्रेस विधायक जॉन कुमार ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था और पिछले महीने से अब तक वह चौथे विधायक हैं जिन्होंने त्यागपत्र दिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पुडुचेरी (Puducherry) में कांग्रेस (Congress) की सरकार पर संकट गहरा गया है. कांग्रेस विधायक जॉन कुमार के इस्तीफे के बाद नारायणसामी सरकार अल्पमत में आ गई है. पुडुचेरी की उपराज्यपाल तमिलिसाई सौंदर्यराजन (Lt Governor Tamilisai Soundararajan) ने मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी को 22 फरवरी को शाम 5 बजे विधानसभा में बहुमत साबित करने का आदेश दिया है.

    बता दें कि 16 फरवरी को कांग्रेस विधायक जॉन कुमार ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था और पिछले महीने से अब तक वह चौथे विधायक हैं जिन्होंने त्यागपत्र दिया है. इसके बाद प्रदेश के 33 सदस्यीय सदन में सत्तारूढ़ कांग्रेस और द्रमुक गठबंधन के सीटों की संख्या कम होकर 14 हो गई है.

    बीजेपी ने की सीएम के इस्तीफे की मांग
    इससे पहले गुरुवार को राज्य के बीजेपी अध्यक्ष वी समिनाथन ने बताया था कि बीजेपी, अन्नाद्रमुक, एनआर कांग्रेस ने एलजी को एक ज्ञापन सौंपकर कहा कि वर्तमान सरकार अल्पसंख्यक सरकार है. सीएम वी. नारायणसामी को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए. हम चाहते हैं कि एक फ्लोर टेस्ट आयोजित किया जाए.

    ये भी पढ़ेंः- किसानों का हल्ला बोल, गाजियाबाद में रोकनी पड़ी उत्कल एक्सप्रेस



    अब तक 4 विधायकों ने छोड़ा कांग्रेस का साथ
    जॉन कुमार के जल्द ही बीजेपी में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं. उनसे पहले कांग्रेस के विधायक मल्लदी कृष्ण राव, नमिचीवम और थिपिनदान अपना इस्तीफा दे चुके हैं. ऐसे में चार कांग्रेसी विधायकों के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री नारायणसामी सरकार पर संकट छाया हुआ है. इससे पहले कांग्रेस विधायक एन धनवेलु को पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के चलते अयोग्य घोषित कर दिया गया था.

    लग सकता है राष्ट्रपति शासन
    सदन में बहुमत जीतने के लिए कुल विधायकों की संख्या के आधे से एक विधायक ज्यादा चाहिए. यानि चार विधायकों के इस्तीफे और एक के निष्काषन के बाद सदन में बहुत के लिए कम से कम 15 विधायकों का समर्थन चाहिए जो कि किसी भी दल के पास नहीं है. अगर राज्य सरकार फ्लोर टेस्ट में फेल होने के बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.