पुडुचेरीः मछुआरों को 5500 रुपये देगी एन रंगासामी सरकार, 8.79 करोड़ रुपये का आवंटन

पुडुचेरी, कराईकल और यानम क्षेत्रों में 15 अप्रैल से 14 जून तक 61 दिनों के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया है.

पुडुचेरी, कराईकल और यानम क्षेत्रों में 15 अप्रैल से 14 जून तक 61 दिनों के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया है.

Puducherry latest news: केंद्र शासित प्रदेश में 15,983 मछुआरों के परिवारों में से प्रत्येक को 5,500 रुपये नकद राहत के रूप में दिए जाएंगे क्योंकि मछली पकड़ने पर मौजूदा प्रतिबंध के दौरान मछुआरे बेरोजगार हैं.

  • Share this:

पुडुचेरी. पुडुचेरी के मुख्यमंत्री एन रंगासामी ने बुधवार को घोषणा की कि केंद्र शासित प्रदेश में 15,983 मछुआरों के परिवारों में से प्रत्येक को 5,500 रुपये नकद राहत के रूप में दिए जाएंगे क्योंकि मछली पकड़ने पर मौजूदा प्रतिबंध के दौरान मछुआरे बेरोजगार हैं. यहां एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि प्रशासन मत्स्य पालन और मछुआरा कल्याण विभाग के माध्यम से राहत राशि के तौर पर करीब 8.79 करोड़ रुपये वितरित करेगा.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुडुचेरी, कराईकल और यानम क्षेत्रों में 15 अप्रैल से 14 जून तक 61 दिनों के लिए मछली पकड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया है, जबकि माहे क्षेत्र में प्रतिबंध एक जून से 31 जुलाई तक लागू रहेगा. राहत राशि का उद्देश्य प्रतिबंध अवधि के दौरान मछुआरों की आर्थिक मुश्किलों को कम करना और उन्हें केंद्र शासित प्रदेश में मौजूदा महामारी की स्थिति के कारण होने वाली परेशानियों से राहत प्रदान करना है.

ये भी पढ़ेंः- अब बाजार में भी मिलेगी DRDO की कोविड-19 रोधी दवा 2-डीजी, कल जारी होगी दूसरी खेप


चक्रवाती तूफान यास और कोरोना के कारण मछली पकड़ने पर रोक

बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामले और चक्रवाती तूफान यास के कारण पुडुचेरी में मछली पकड़ने पर रोक लगाई गई है. मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवाती तूफान यास पुडुचेरी के तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही मचा सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज