अपना शहर चुनें

States

भाजपा नहीं चाहती थी कि पुडुचेरी में कांग्रेस सरकार रहे, कर्नाटक के CM रहे सिद्धरमैया का दावा

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री  सिद्धरमैया. (फाइल फोटो)
कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया. (फाइल फोटो)

Puducherry News: अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले नारायणसामी ने उपराज्यपाल तमिलीसाई सुंदरराजन से मुलाकात की और अपनी चार सदस्यीय कैबिनेट का इस्तीफा सौंप दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 7:55 PM IST
  • Share this:

बेंगलुरु. कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने सोमवार को आरोप लगाया कि भाजपा नहीं चाहती थी कि पुडुचेरी में जब विधानसभा चुनाव होने वाले हैं तो ऐसे में वहां कांग्रेस नीत वी. नारायणसामी की सरकार रहे. वह केंद्र शासित प्रदेश की विधानसभा में विश्वास मत से पहले सोमवार को नारायणसामी की सरकार गिरने पर प्रतिक्रिया जता रहे थे. पुडुचेरी में कांग्रेस विधायकों और द्रमुक के एक विधायक द्वारा हाल में दिए गए इस्तीफों के कारण गठबंधन की सरकार अल्पमत में आ गई थी.


मेंगलुरु में संवाददाताओं से बात करते हुए सिद्धरमैया ने आरोप लगाए कि कांग्रेस विधायकों को खरीदा गया और चुनाव का सामना करने के बजाए उनसे इस्तीफा दिलवाया गया. सिद्धरमैया ने कहा, ‘अब नारायणसामी मुख्यमंत्री हैं. लक्ष्य उनको हटाने का है ताकि उनके सत्ता में रहते चुनाव नहीं हो सके. यह चीजों को करने का अलोकतांत्रिक तरीका है.’


भाजपा को सबक सिखाएगी पुडुचेरी की जनता : गहलोत
दूसरी ओर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पुडुचेरी में कांग्रेस नीत सरकार की विश्वासमत में हार और मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी के इस्तीफे के राजनीतिक घटनाक्रम को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए सोमवार को भाजपा पर निशाना साधा. उन्होंने पुडुचेरी सरकार गिराने के लिए अनैतिक तरीके अपनाने का भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भगवा पार्टी इन तौर तरीकों से लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है. गहलोत ने ट्वीट किया, 'पुडुचेरी में जो कुछ हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. भाजपा ने अनैतिक तरीके से कांग्रेस सरकार गिराकर दिखाया है कि वह सत्ता के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. पहले वहां उपराज्यपाल के माध्यम से सरकार चलाने में परेशानियां पैदा कीं और अब धनबल से सरकार गिरा दी.'



अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले नारायणसामी ने उपराज्यपाल तमिलीसाई सुंदरराजन से मुलाकात की और अपनी चार सदस्यीय कैबिनेट का इस्तीफा सौंप दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज