लाइव टीवी

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी क़ारी यासिर को किया ढेर

News18Hindi
Updated: January 26, 2020, 8:23 AM IST
जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी क़ारी यासिर को किया ढेर
सांकेतिक तस्वीर

अवंतीपुरा (Awantipora) में जम्मू कश्मीर पुलिस ने एक ऑपरेशन में आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद (Jaish e Mohammed) के कमांडर और दो और आतंकियों को मार गिराया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2020, 8:23 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में पुलवामा हमले (Pulwama Attack) के मास्टरमाइंड और पाकिस्तानी आतंकी क़ारी यासिर को ढेर कर दिया है. यासिर कश्मीर में आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद (Jaish e Mohammed) का चीफ था. इस एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने उसके दो सहयोगियों को भी मार गिराया है. ये मुठभेड़ शनिवार को अवंतीपुरा (Awantipora) में हुआ. बता दें कि पिछले साल पुलवामा हमले में सीआपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

IED ब्लास्ट का एक्सपर्ट 
कश्मीर के आईजी विजय कुमार के मुताबिक, यासिर पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड था. कहा जाता है कि यह खतरनाक आतंकी IED ब्लास्ट का एक्सपर्ट था. दो और मारे गए आंतकियों की पहचान मूसा उर्फ अबु उसमान के तौर पर हुई. इसके अलावा एक आतंकी त्राल का रहने वाला बुराहुद्दीन शेख था. सुरक्षाबलों को जानकारी मिली थी कि ये सारे आतंकी 26 जनवरी के दिन बड़े हमले की योजना बना रहे थे.

आतंकियों की भर्ती करता था

श्रीनगर स्थित चिनार कोर के जनरल-ऑफिसर-कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों और पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा , 'त्राल मुठभेड़ में हमने तीन आतंकवादियों को मार दिया जिसमें जैश ए मोहम्मद के कश्मीर क्षेत्र का प्रमुख कारी यासिर शामिल था. वह पिछले साल फरवरी (आईईडी) विस्फोट और लेथपोरा (आईईडी) विस्फोट में शामिल थे. वह उग्रवादियों की भर्ती के साथ-साथ पाकिस्तान से उन्हें लाने ले जाने में भी शामिल था.'

तीन जवान घायल
गोलीबारी में सेना के तीन जवान घायल हो गए और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आईजीपी ने कहा कि पुलिस को श्रीनगर या उसके आसपास आईईडी हमले के बारे में लगातार जानकारी मिल रहे थे. उन्होंने कहा, 'हमें बुरहान और यासिर के नाम पता थे. उनका एक दोस्त और यासिर का दूसरा कमांडर मूसा भी उसके साथ था. हमें यकीन है कि शवों की पहचान कर लेंगे तो उनमें से एक यासिर होगा. क्योंकि हमारी जानकारी के अनुसार वे वहीं मौजूद थे. यासिर और मूसा पाकिस्तान के हैं जबकि बुरहान स्थानीय निवासी था.'ये भी पढ़ें- बहाल किए जाने के कुछ ही घंटों बाद कश्मीर में रोकी गई इंटरनेट सेवा, जानें वजह

गणतंत्र दिवस: आज 12 बजे तक 4 मेट्रो स्टेशन रहेंगे बंद, इन मार्गों पर भी रोक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 8:09 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर