अपना शहर चुनें

States

पुलवामा जैसे हमले की साजिश नाकाम, जम्मू के प्रसिद्ध रघुनाथ मंदिर में धमाके की थी योजना

14 फरवरी 2019 को पुलवामा हमला हुआ था. इसी तरह का हमला फिर करना चाहते थे आतंकी.
14 फरवरी 2019 को पुलवामा हमला हुआ था. इसी तरह का हमला फिर करना चाहते थे आतंकी.

विस्फोटक (IED) की बरामदगी होने से एक बड़ी घटना टल गई और पुलवामा हमले (Pulwama Attack) की दूसरी बरसी पर विस्फोट करने की आतंकवादियों की साजिश नाकाम हो गई. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि एक छात्र और तीन अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है.

  • Share this:
जम्मू. जम्मू में भीड़भाड़ वाले एक बस स्टैंड के नजदीक से एक नर्सिंग छात्र के पास से रविवार को शक्तिशाली आईईडी (IED) बरामद किया गया. विस्फोटक की बरामदगी होने से एक बड़ी घटना टल गई और पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर विस्फोट करने की आतंकवादियों की साजिश नाकाम हो गई. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि छात्र और तीन अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है. अधिकारियों के मुताबिक निशाने पर जम्मू का प्रसिद्ध रघुनाथ मंदिर भी था.

जम्मू रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) मुकेश सिंह ने बताया कि एक अलग अभियान में सांबा जिले से छह पिस्तौलें और 15 छोटे आईईडी जब्त किए गए हैं. उन्होंने पत्रकारों को बताया, 'पिछले चार दिनों में हम हाई अलर्ट पर थे क्योंकि सामान्य खुफिया सूचना थी कि आतंकी समूह पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर जम्मू शहर में एक बड़ा विस्फोट की फिराक में हैं. सभी महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी और जांच तेज कर दी गई थी.’

करीब सात किलोग्राम आईईडी बरामद किया गया
सिंह के साथ पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह भी थे. उन्होंने बताया कि एक युवक को बस स्टैंड क्षेत्र में एक बैग के साथ संदिग्ध रूप से घूमते पाया गया. उसके पास से करीब सात किलोग्राम आईईडी बरामद किया गया. हालांकि अभी विस्फोटक को सक्रिय नहीं किया गया था.
पाकिस्तानी आकाओं के इशारे पर कर रहा था काम


आईजी ने आरोपी की पहचान पुलवामा के नेवा गांव निवासी सुहैल बशीर शाह के तौर पर बताई है जो चंडीगढ़ के एक कॉलेज से नर्सिंग का पाठ्यक्रम कर रहा है. पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठन अल बद्र से संबद्ध उसके आकाओं ने उसे जम्मू में आईईडी रखने का काम सौंपा था. उन्होंने बताया, 'उसे चार लक्ष्य दिए गए थे जिनमें (प्रसिद्ध ) रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार शामिल थे और उसे अपना काम पूरा करने के बाद एक उड़ान से श्रीनगर जाना था.’

ये भी पढ़ें: जम्मू से IED बरामद, कई जगह धमाके की थी साजिश; पाक में बैठा आका दे रहा था निर्देश

ये भी पढ़ें: पुलवामा आतंकी हमले की बरसी पर CRPF ने कहा- न माफ करेंगे, न भूलेंगे

सिंह ने बताया कि अल बद्र का सक्रिय सदस्य अतहर शकील खान उसे श्रीनगर हवाई अड्डे पर लेने आता। खान को गिरफ्तार कर लिया गया है. आईजी ने बताया, 'कश्मीर के उसके साथी छात्र काज़ी वसीम को इस योजना के बारे में पता था और उसे चंडीगढ़ से हिरासत ले लिया गया है, जबकि उसके एक अन्य सहयोगी आबिद नबी को श्रीनगर से गिरफ्तार किया गया है.’

बम निष्क्रिय दस्ता आईईडी की जांच कर रहा है 
उन्होंने बताया कि बम निष्क्रिय दस्ता आईईडी की जांच कर रहा है और अभी यह स्पष्ट नहीं है कि उपकरण बनाने में आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया है या नहीं. बहरहाल, उन्होंने कहा कि वक्त पर आईईडी की बरामदगी से जम्मू क्षेत्र में बड़ी घटना टल गई है. सिंह ने बताया कि एक अन्य सफल अभियान में, पुलिस ने 13 और 14 फरवरी की दरमियानी रात को सांबा जिले में रामगढ़ के जंग इलाके में गश्त के दौरान छह पिस्तौल, बड़ी मात्रा में गोला-बारूद और 15 छोटे आईईडी जब्त किए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज