होम /न्यूज /राष्ट्र /पुलवामा हमला: साजिश में शामिल पाकिस्तानी नागरिक को गृह मंत्रालय ने घोषित किया आतंकी

पुलवामा हमला: साजिश में शामिल पाकिस्तानी नागरिक को गृह मंत्रालय ने घोषित किया आतंकी

पुलवामा आतंकी हमला 2019 (फाइल फोटो)

पुलवामा आतंकी हमला 2019 (फाइल फोटो)

Pulwama Terrorist Attack 2019: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने फरवरी 2019 में पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शामिल पाकिस्तानी ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने फरवरी 2019 में जम्मू कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Terrorist Attack 2019) में हुए आतंकी हमले में शामिल पाकिस्तानी नागरिक मोहिउद्दीन औरंगजेब आलमगीर को सोमवार को आतंकवादी घोषित किया है. इस आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की बस को निशाना बनाया गया था जिसमें 40 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक अधिसूचना में कहा है कि मकतब अमीर, मुजाहिद भाई और मुहम्मद भाई के नाम से जाना जाने वाला आलमगीर पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमले में शामिल था.

यह आतंकी जैश-ए-मोहम्मद की ओर से भारत विरोधी आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा है और पाकिस्तानी नागरिकों से संगठन के लिए चंदा जुटाने की गतिविधियों में संलिप्त है और इस पैसे को कश्मीर तक पहुंचाता है.

आलमगीर आतंकियों की घुसपैठ को सुगम बनाने और जम्मू कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों पर आतंकी हमलों के समन्वय में शामिल रहा है. गृह मंत्रालय ने कहा कि आलमगीर की सभी गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए उसे गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) कानून के तहत एक आतंकवादी के रूप में अधिसूचित किया गया है.

पुलवामा आतंकी हमले का बदला पूरा, अटैक में शामिल आखिरी जिंदा आतंकी समीर डार मुठभेड़ में मार गिराया

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के कुछ दिन बाद भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान में घुसकर हवाई हमले किए थे. एयरफोर्स ने बालाकोट में स्थित आतंकी शिविरों को निशाना बनाया था. इस कार्रवाई 300 से अधिक आतंकियों के मारे जाने की खबर आई थी. हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो सकी.

इस मामले की जांच में NIA की चार्जशीट के मुताबिक, हमले की योजना पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने बनाई थे. आतंकियों को ट्रेनिंग देने के बाद हमले के लिए भारत भेजा गया था. हमले के लिए स्थानीय युवक आदिल अहमद डार का इस्तेमाल किया.

यह वही शख्स जिसने सीआरपीएफ के काफिले पर विस्फोटक से लदी कार से हमला कर दिया था. बताया जाता है कि इस हमले में सीधे पाकिस्तान सरकार का हाथ था. इसको लेकर भारत के पास सारे ठोस सबूत हैं. इस आतंकी हमले से पाकिस्तान का उद्देश भारत में अशांति फैलाना था.

Tags: Pakistani Terrorist, Pulwama Terror Attack, Union home ministry

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें