पुलवामा हमले पर पहली बार बोलेगी पाकिस्तानी फौज, पीएम इमरान खान दे चुके हैं खुली छूट

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कई कड़े कदम उठाए हैं

News18Hindi
Updated: February 22, 2019, 12:15 PM IST
News18Hindi
Updated: February 22, 2019, 12:15 PM IST
पुलवामा हमले में पाकिस्तान का हाथ होने से इनकार करने वाले पीएम इमरान खान के बाद आज पाकिस्तानी सेना इस मुद्दे पर सामने आ सकती है. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक आज दोपहर 3.30 बजे पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं, जिसमें वो पुलवामा हमले पर अपनी बात रखेंगे. आपको बता दें पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने इस्लामाबाद में हुई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में अपनी सेना को खुली छूट दी है. जिसमें उन्होंने साफ निर्देश दिया है कि अगर भारतीय सेना कोई कार्रवाई करती है तो पाकिस्तानी सेना भी जवाब दे.

आपको बता दें 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कई कड़े कदम उठाए हैं. पुलवामा हमले के बाद भारत की सख्ती से पाकिस्तान सहम गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में कई गांव खाली कराए गए हैं. इसके साथ ही लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है. मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने लाइन ऑफ कंट्रोल यानी LoC के पास लोगों की आवाजाही रोक दी है. पाकिस्तान ने पीओके के 127 गांवों में अलर्ट भी जारी किया है. इसके साथ ही LoC के पास 40 से ज्यादा गांव खाली कराए गए हैं.

इससे पहले खबर आई थी कि पाकिस्तान ने आतंकी मसूद अजहर को जैश-ए-मोहम्मदके बहावलपुर हेडक्वार्टर से हटा कर कहीं और भेज दिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान सरकार ने मसूद अजहर को रावलपिंडी में किसी सुरक्षित जगह भेजा है. बता दें रावलपिंडी में पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI का हेडक्वार्टर है. पाकिस्तानी वेबसाइट 'डॉन' के अनुसार पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जमात-उत-दावा पर बैन लगा दिया है.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...