पुणे: आयकर विभाग की तलाशी में 335 करोड़ रुपये की अघोषित आय का खुलासा

आयकर विभाग को पुणे में तलाशी के दौरान बड़ी सफलता मिली. (सांकेतिक चित्र)

महाराष्‍ट्र में आयकर विभाग को बड़ी सफलता मिली. पुणे के एक कारोबारी के यहां तलाशी के दौरान करीब 335 करोड़ रुपए की अघोषित आय का खुलासा हो गया है. समूह तंबाकू उत्पादों और संबंधित सामानों की पैकेजिंग और बिक्री में शामिल है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. आयकर विभाग (Income Tax Department) ने पुणे के एक कारोबारी समूह के यहां तलाशी के दौरान करीब 335 करोड़ रुपये की अघोषित आय  (Undisclosed Income) का पता लगाया है. समूह तंबाकू उत्पादों और संबंधित सामानों की पैकेजिंग और बिक्री में शामिल है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने सोमवार को एक बयान में कहा कि तलाशी 17 फरवरी को महाराष्ट्र में 34 स्थानों पर शुरू की गयी. इस दौरान एक करोड़ रुपये नकद जब्त किये गये. समूह ने इसके स्रोत के बारे में कोई जानकारी नहीं दी.

    बयान के अनुसार, ‘‘करदाता ने नौ करोड़ रुपये की रीयल एस्टेट संपत्ति बेचकर लाभ कमाने की बात स्वीकार की है. जबकि इसका कोई रिकार्ड नहीं था.’’ सीबीडीटी  (CBDT) ने कहा कि अब तक 335 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता चला है. समूह पुणे के संगमनेर इलाके का है और उसकी इकाइयां तंबाकू और उससे संबंधित उत्पादों की पैकेजिंग और बिक्री, बिजली उत्पादन एवं वितरण, दैनिक उपयोग के सामान (एफएमसीजी) की बिक्री तथा रीयल एस्टेट विकास से जुड़ी हैं.

    ये भी पढ़ें:  कोलकाताः आयकर विभाग ने की कंपनी में छापेमारी, 365 करोड़ रुपये के कालेधन का पर्दाफाश

    243 करोड़ रुपये, नकद बिक्री से
    बयान के अनुसार हाथ से लिखे और कंप्यूटर में उपलब्ध साक्ष्यों से तंबाकू बिक्री से संबद्ध 243 करोड़ रुपये नकद बिक्री का पता चला है जिसका कोई रिकार्ड नहीं है.

    ये भी पढ़ें:  ईसाई धर्म के प्रचारक पॉल दिनाकरण पर IT का शिकंजा, 118 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा

    कोलकाता के कारोबारी से भी मिले थे 300 करोड़
    इनकम टैक्स विभाग इसी माह ने कोलकाता स्थित एक कारोबारी समूह पर बड़ी कार्रवाई की थी. दरअसल, लोहा, स्टील और चाय के कारोबार से जुड़े कोलकाता के एक कारोबारी समूह के परिसरों पर छापेमारी के दौरान कथित तौर पर 300 करोड़ रुपये की बेनामी आय का पता लगाया था.


    कारोबारी समूह के कई परिसरों पर छापे

    सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज  (CBDT) ने कहा कि इनकम टैक्स अधिकारियों को समूह के वित्तीय विवरण और अन्य स्रोतों से मिली जानकारी के आधार पर 29 जनवरी को कोलकाता, जमशेदपुर, भुवनेश्वर, हैददाबाद, मुंबई और कुछ अन्य स्थानों पर 25 परिसरों की तलाशी ली थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.