Q4 Results: पंजाब एंड सिंध बैंक ने जारी किए चौथी तिमाही के नतीजे, 161 करोड़ रुपये रहा नेट प्रॉफिट

पंजाब एंड सिंध बैंक

पंजाब एंड सिंध बैंक

पूरे वित्तीय वर्ष 2020-21 में पंजाब एंड सिंध बैंक (Punjab & Sind Bank) को 2,732.90 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ जो वित्तीय वर्ष 2019-20 में हुए 990.80 करोड़ रुपये के शुद्ध घाटे से कहीं ज्यादा है.

  • Share this:

नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब एंड सिंध बैंक (Punjab & Sind Bank) ने चौथी तिमाही के नतीजे जारी कर दिए हैं. बैंक को मार्च 2021 में समाप्त हुई तिमाही में 160.79 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ. सरकारी बैंक ने शनिवार को नियामकीय सूचना में बताया कि उसे वित्तीय वर्ष 2019-20 की जनवरी-मार्च तिमाही में 236.30 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था. वित्तीय वर्ष 2020-21 की अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में भी उसे 2,375.53 करोड़ रुपये का भारी भरकम शुद्ध घाटा हुआ था.

पूरे वित्तीय वर्ष 2020-21 में बैंक को 2,732.90 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ जो वित्तीय वर्ष 2019-20 में हुए 990.80 करोड़ रुपये के शुद्ध घाटे से कहीं ज्यादा है. वित्तीय वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में बैंक की कुल आय वित्तीय वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही के 8,826.92 करोड़ रुपये से 10.7 फीसदी गिरकर 7,876.72 करोड़ रुपये हो गई.

ये भी पढ़ें- इस कंपनी के शेयर ने निवेशकों को बनाया करोड़पति! 1 लाख को बना दिया 1 करोड़, क्या आपके पास भी है ये स्टॉक?

बैंक की एनपीए (Non Performing Assets) मार्च 2021 तिमाही में 13.76 फीसदी के ऊंचे स्तर पर बनी रही. मार्च 2020 तिमाही में एनपीए का स्तर 14.18 फीसदी था. मूल्य के लिहाज से वित्तीय वर्ष 2020-21 की समाप्ति पर यह 9,334 करोड़ रुपये था जबकि एक साल पहले यह 8,874.57 करोड़ रुपये था.
ये भी पढ़ें- इन तीन सरकारी बैंक के ग्राहक ध्यान दें! इस तारीख से बदल जाएंगे ये नियम, फटाफट चेक करें डिटेल

सरकार ने पंजाब एंड सिंध बैंक में 5,500 करोड़ रुपये के शेयर पूंजी डाली थी

हाल ही में सरकार ने पंजाब एंड सिंध बैंक में 5,500 करोड़ रुपये की इक्विटी पूंजी का निवेश किया था. इसके बदले सरकार को विशेष रूप से बैंक के 335 करोड़ शेयर प्राप्त हुए हैं और इस बैंक में उसकी हिस्सेदारी 83 प्रतिशत से ऊपर चली गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज