कृषि कानून पर पंजाब विधानसभा में जोरदार बहस जारी, बाहर शिरोमणि अकाली दल और आप का प्रदर्शन

पंजाब में कृषि कानून को लेकर विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित किया गया है. तस्वीर सीएम अमरिंदर सिंह के  ट्विटर पेज से साभार
पंजाब में कृषि कानून को लेकर विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित किया गया है. तस्वीर सीएम अमरिंदर सिंह के ट्विटर पेज से साभार

केंद्र सरकार की ओर से लाए गए कृषि कानून (Farm Laws) पर चर्चा और उसके खिलाफ विधेयक पेश करने के लिए पंजाब विधानसभा (Punjab Assembly Session) का विशेष दो दिवसीय सत्र सोमवार से शुरू हो गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 1:52 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार की ओर से लाए गए कृषि कानून (Farm Laws) पर चर्चा और उसके खिलाफ विधेयक पेश करने लिए पंजाब विधानसभा (Punjab Assembly Session) का विशेष दो दिवसीय सत्र सोमवार से शुरू हो गया है. इस दौरान सदन के अंदर तेज बहस हो रही है. वहीं विधानसभा के बाहर पंजाब की विपक्षी पार्टियां शिरोमणि अकाली दल और आम आदमी पार्टी इस सत्र का विरोध कर रही हैं. बता दें कि कृषि कानूनों का किसान जबरदस्‍त विरोध कर रहे हैं.

पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू होने से पहले मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा, 'आज से शुरू हो रहे महत्वपूर्ण विशेष सत्र के लिए मैं विधानसभा पहुंच गया हूं. हम केंद्र के किसान विरोधी कानूनों से पंजाब की खेती को बचाने और हितों की रक्षा के लिए चर्चा व बहस करने के लिए मिल रहे हैं.'


पंजाब विधानसभा सत्र के दौरान चंडीगढ़ में शिरोमणि अकाली दल के कार्यकर्ता पंजाब सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. शिरोमणि अकाली दल के कार्यकर्ता विधानसभा के बाहर यह विरोध जता रहे हैं. पार्टी के नेता विक्रम मजीठिया ने कहा कि पंजाब सरकार ने कृषि कानून के खिलाफ केंद्र सरकार को कोई प्रस्‍ताव नहीं भेजा. वो केंद्र से मिलकर फिक्‍स मैच खेल रही है.



वहीं चंडीगढ़ में विधानसभा के बाहर आम आदमी पार्टी के नेता भी एकत्र होकर पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. आप विधायक हरपाल सिंह चीमा का कहना है कि पंजाब सरकार इन काले कानूनों के पक्ष में है. आम आदमी पार्टी इसका पर्दाफाश करेगी कि कैसे वो केंद्र से मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज