• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • जम्मू-कश्मीर: पंजाब के फल विक्रेता की शोपियां में आतंकियों ने की हत्या, एक की हालत नाजुक

जम्मू-कश्मीर: पंजाब के फल विक्रेता की शोपियां में आतंकियों ने की हत्या, एक की हालत नाजुक

श्रीनगर में सुरक्षा बंद के दौरान तैनात अर्धसैनिक बल के जवान

श्रीनगर में सुरक्षा बंद के दौरान तैनात अर्धसैनिक बल के जवान

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के शोपियां (Shopian) जिले में आतंकवादी हमले में गैर स्थानीय फल विक्रेता की हत्या कर दी.

  • Share this:
    श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के शोपियां (Shopian) जिले में बुधवार शाम को आतंकवादी हमले में पंजाब (Punjab) के एक फल विक्रेता की मौत हो गई जबकि एक घायल हो गया. पुलिस ने यह जानकारी दी.

    पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि त्रेंज में 3-4 आतंकवादियों ने शाम करीब साढ़े सात बजे चरणजीत सिंह और संजीव को गोली मार दी.

    एक की हालत नाजुक
    उन्होंने कहा कि दोनों को नाजुक हालत में पुलवामा (Pulwama) के एक जिला अस्पताल ले जाया गया. चरणजीत सिंह की मौत हो गई जबकि संजीव की हालत नाजुक बताई गई है.

    एक मजदूर की गोली मारकर हत्या
    वहीं जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए वहीं आतंकवादियों ने पुलवामा जिले में छत्तीसगढ़ के एक प्रवासी मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी. संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधान हटाए जाने के बाद वहां लगातार 73वें दिन भी सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ.

    वहीं जम्मू कश्मीर पुलिस ने पांच अगस्त के बाद हिंसक आंदोलन का नेतृत्व वाले एक सरगना को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की. अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को अनंतनाग जिले में पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकवादियों की उम्र 20 साल के आसपास थी और वे हाल ही में आतंकवादी समूहों में शामिल हुए थे.

    तीन आतंकी ढेर
    उन्होंने बताया कि जिला पुलिस की विशेष खुफिया जानकारी के आधार पर मंगलवार और बुधवार की दरम्यानी रात को अनंतनाग के पाजलपुरा इलाके में मुठभेड़ शुरू हो गई. तीनों आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया.

    पुलिस दल ने सुरक्षा बलों के साथ क्षेत्र की घेरेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया था. उनके पास सटीक जानकारी थी कि तीनों आतंकवादी कहां छिपे हुए हैं. उन्होंने बताया कि वे एक मकान की ओर बढ़े. मकान मालिक ने इस बात से इनकार किया कि मकान में कोई छिपा हुआ है. उनकी बात पर विश्वास नहीं करते हुए जवानों ने कार्रवाई शुरू की.

    मकान में छिपे आतंकवादियों ने रात में करीब ढ़ाई बजे गोलियां चलाईं जिसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की. दोनों ओर से भारी गोलीबारी होने के कारण पूरा मकान धराशायी हो गया. शवों अंतिम संस्कार के लिए उनके परिजनों को सौंप दिया गया है.

    सितंबर में आतंकी संगठन में शामिल हुआ था आतंकी
    तीनों आतंकवादियों में सबसे बड़े की पहचान नसीर गुलजार छद्रू उर्फ अबु हन्नान के तौर पर की गई है. वह अनंतनाग जिले के बिजबेहारा का रहने वाला था. वह पिछले वर्ष सितंबर में लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हुआ था.

    अन्य दो की पहचान जाहिद अहमद लोन और आकिब अहमद हजाम के रूप में हुई है. लोन भी बिजबेहारा का रहने वाला था. वह जुलाई में आतंकवादी संगठन में शामिल हुआ था. हजाम कुलगाम जिले के रेधवानी का रहने वाला था. वह अप्रैल में आतंकवादी संगठन में शामिल हुआ था.

    ये भी पढ़ें-
    पंजाब और जम्मू को निशाना बना सकते हैं आतंकी, एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट

    कश्मीर में आतंकियों ने की छत्तीसगढ़ के मजदूर की हत्या, CM ने किया ये ऐलान

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज