Home /News /nation /

Punjab Elections: पंजाब में दल-बदल जारी, BJP में जाने के 6 दिन बाद ही कांग्रेस में लौटे बलविंदर लड्डी

Punjab Elections: पंजाब में दल-बदल जारी, BJP में जाने के 6 दिन बाद ही कांग्रेस में लौटे बलविंदर लड्डी

बलविंदर लड्डी ने बीते हफ्ते ही भाजपा का दामन थामा था. (फाइल फोटो: ANI)

बलविंदर लड्डी ने बीते हफ्ते ही भाजपा का दामन थामा था. (फाइल फोटो: ANI)

Punjab Assembly Elections: कांग्रेस विधायक फतेह सिंह बाजवा और श्री हरगोबिंदपुर साहिब सीट से बलविंदर सिंह लड्डी केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए थे. बाजवा कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा के भाई हैं. इनके अलावा शिअद नेता गुरतेज सिंह गुंधियाना, कमल बख्शी, मधुमीत, जगदीप सिंह धालीवाल, राजदेव खालसी और पूर्व क्रिकेटर दिनेश मोंगिया ने भी भाजपा का दामन थामा था.

अधिक पढ़ें ...

    चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के श्रीहरगोविंदपुर से विधायक बलविंदर लड्डी (Balwinder Laddi) की कांग्रेस में वापसी हो गई है. उन्होंने बीते हफ्ते भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दामन थाम लिया था. खबर है कि पार्टी टिकट को लेकर मिले भरोसे के चलते लड्डी ने यह कदम उठाया है. उन्होंने रविवार रात पंजाब प्रभारी हरीश चौधरी और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा की मौजूदगी में कांग्रेस की दोबारा सदस्यता ली.

    बीते साल दिसंबर में बीजेपी में शामिल होने वाले लड्डी ने ट्वीट किया था, ‘…पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह जी की ईमानदारी और समर्पण हर भारतीय के लिए प्रेरणा है और लोगों ने उनके प्रयासों को माना है. साथ मिलकर हम पंजाब के लोगों के लिए बेहतर माहौल बनाने के लिए काम करेंगे.’ उन्होंने भाजपा में स्वागत के लिए पार्टी महासचिव दुष्यंत गौतम और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का धन्यवाद किया था.

    यह भी पढ़ें: ‘अगर ऐसा नहीं हुआ तो मैं छोड़ दूंगा राजनीति ‘, पंजाब चुनाव से पहले नवजोत सिंह सिद्धू का बड़ा ऐलान

    कांग्रेस विधायक फतेह सिंह बाजवा और श्री हरगोबिंदपुर साहिब सीट से बलविंदर सिंह लड्डी केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए थे. बाजवा कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा के भाई हैं. इनके अलावा शिअद नेता गुरतेज सिंह गुंधियाना, कमल बख्शी, मधुमीत, जगदीप सिंह धालीवाल, राजदेव खालसी और पूर्व क्रिकेटर दिनेश मोंगिया ने भी भाजपा का दामन थामा था.

    पहली बैठक
    भाजपा, कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब लोक कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) ने साथ मिलकर पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है. गठबंधन के ऐलान के बाद पहली बार तीन पार्टियों ने रविवार को बैठक की. चंडीगढ़ में हुई मीटिंग में आगामी चुनाव के लिए रणनीति पर चर्चा की गई. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, इस दौरान सीट बंटवारे और टिकट वितरण को लेकर चर्चा नहीं की गई है. 5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी फिरोजपुर जिले में रैली को संबोधित करने जा रहे हैं. राज्य में 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर