आतंकी साजिश नाकाम! पंजाब में खालिस्तानियों के लिए काम कर रहा शख्स 45 विदेशी पिस्टल के साथ गिरफ्तार

Punjab Crime News: डीजीपी दिनकर गुप्ता ने जब्त किए गए हथियारों का विवरण देते हुए खुलासा किया कि यह हथियार भारत के विभिन्न हिस्सों में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए जाने थे.

Punjab Crime News: डीजीपी दिनकर गुप्ता ने जब्त किए गए हथियारों का विवरण देते हुए खुलासा किया कि यह हथियार भारत के विभिन्न हिस्सों में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए जाने थे.

  • Share this:
    चंडीगढ़. पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने विदेशी पिस्टल्स (Foreign pistols) की एक बड़ी खेप बरामद की है और हथियारों की तस्करी करने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो कथित तौर पर पाकिस्तान-आधारित आतंकवादी संगठनों (Pakistan-based terrorist organizations) और अमेरिका, कनाडा और यूके आधारित भारत विरोधी खालिस्तानी तत्वों (Khalistani elements) के साथ जुड़े हुआ था.

    डीजीपी दिनकर गुप्ता (DGP Dinkar Gupta) ने जब्त किए गए हथियारों का विवरण देते हुए खुलासा किया कि यह हथियार भारत के विभिन्न हिस्सों में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किए जाने थे. गुप्ता ने बताया कि जगजीत सिंह उर्फ जग्गू (25 साल) निवासी पुरीयां कलां, जिला बटाला को पंजाब इंटरनल सिक्योरिटी विंग एस.एस.ओ.सी. अमृतसर की टीम ने अमृतसर के कथूनंगल के पास से गिरफ्तार किया था. एक इंटेलीजेंस ऑपरेशन में एसएसओसी अमृतसर ने अमृतसर-बटाला रोड पर पुलिस नाका लगाकर एक आई-20 कार का पीछा करते हुए उसे रोका.

    पंजाब: आखिर कैसे मायावती और सुखबीर सिंह बादल बढ़ा सकते हैं कैप्टन अमरिंदर सिंह की मुश्किलें?

    पुलिस टीम ने कार में से दो नाइलॉन बैग बरामद किए जिनमें अलग-अलग देशों और बोर वाली 48 विदेशी पिस्टल समेत मैगजीन और कारतूस थे. इसमें 19 पिस्टल 9 एम.एम. (जिग़ाना-तुर्की में बने) समेत 37 मैगजीन और 45 कारतूस, 9 पिस्टल .30 बोर (चीन में बने) समेत 22 मैगजीन, 19 पिस्टल .30 बोर (स्टार मार्क) समेत 38 मैगजीन और 148 कारतूस और 1 पिस्टल 9 एम.एम. (बरेटा-इटालियन) समेत 2 मैगजीन शामिल थीं.

    हथियारों की तस्करी के संबंधों के बारे में विवरण देते हुए डीजीपी ने बताया कि प्राथमिक पड़ताल से पता लगा है कि जगजीत को एक पुराने गैंगस्टर अपराधी दरमनजोत सिंह उर्फ दरमनजोत काहलों ने हथियारों की यह खेप एकत्र करने के लिए निर्देश दिया था. दरमनजोत, जोकि अब यू.एस.ए. में रह रहा है, जगजीत सिंह के संपर्क में था. जिक्र योग्य है कि दुबई में 2017 से दिसंबर 2020 के दौरान जगजीत दरमनजोत काहलों के संपर्क में था, जिसने उसको अपने इस काम के लिए प्रेरित किया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.